दो करोड़ रूपये तक का उद्योग स्थापित कर सकेंगे युवा

शेयर करें:

अशोकनगर @ कुटीर एवं ग्रामोद्योग के अन्तर्गत राज्य शासन के हाथकरघा विभाग द्वारा स्वरोजगार संबंधित विभिन्न हितग्राहीमूलक योजनाऐं संचालित है। विभाग द्वारा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना व मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के अन्तर्गत समाज के सभी वर्गो के लिये स्वयं का उद्योग स्थापित करने विनिर्माण और सेवा क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध कराया जाता है। विभाग द्वारा मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में परियोजना लागत 50 हजार रूपये से अधिकतम 10 लाख रूपये तक है। इसमें सामान्य वर्ग के लिये मार्जिन मनी अनुदान राशि रूपये परियोजना लागत की 15 प्रतिशत जो कि अधिकतम 01 लाख रूपये है, यह बी.पी.एल. अनु.जाति-जनजाति अन्य पिछडा वर्ग महिला अल्पसंख्यक व निःशक्तजन के लिये 30 प्रतिशत जो अधिकतम 02 लाख रूपये होगी। परियोजना लागत की शेष राशि बैंक वित्तीय संस्थान से ऋण के रूप में स्वीकृत कराई जायेगी।

मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना में 50 हजार से 2 करोड़ तक प्रावधान है। इस योजना में सामान्य वर्ग हेतु परियोजना लागत पर मार्जिन मनी 15 प्रतिशत अधिकतम 12 लाख बी.पी.एल. हेतु परियोजना लागत पर 20 प्रतिशत अधिकतम राशि रूपये 18 लाख तक होगी। उद्योग (विनिर्माण) एवं सेवा क्षेत्र से संबंधित कृषि आधारित परियोजनाएं-एग्रो प्रोसेसिंग, कोल्ड स्टोरेज, मिल्क प्रोसेसिंग, कैटल फीड, केटल फीड, पोल्ट्री फीड, फिष फीड, कस्टम हायरिंग सेंटर, बेजीटेबल डीहाईड्रेशन, टिश्‍यू कल्चर, कैटल फीड, दाल मिल, राईस मिल, आईल मिल, फ्लोर मिल, बेकरी मसाला निर्माण, सीड ग्रेडिंग/शॉर्टिग व अन्य कृषि आधारित/अनुशांगित परियोजनाएं।

हाथकरघा विकास योजनान्तर्गत बुनकरो हेतु उपकरण/सहायक उपकरण /संस्था/हितग्राही /स्वसहायता समूह को 50 प्रतिषत अनुदान विभाग द्वारा प्रदान किया जाता है। साथ ही जिला संभाग स्तर पर मेला प्रदर्शनी का आयोजन हेतु 50 हजार एवं प्रदेश के महानगरो में मेला प्रदर्शनी आयोजन हेतु 1 लाख रूपये, प्रदेश के वाहर महानगरो में मेला प्रदर्शनी का आयोजन हेतु 1.50 लाख रूपये राशि अनुदान के रूप में देय होगी।

माटीकला बोर्ड के अन्तर्गत मिट्टी से संबंधित कार्य करने वाले कुम्हारो, कारीगरो व परम्परागत करीगरो या प्रशिक्षित उद्यमियो के लिये मुख्यमंत्री स्वरोजगार/आर्थिक कल्याण योजना संचालित है जिसके अन्तर्गत परियोजना इकाई की लागत अधिकतम 50 हजार से 10 लाख तक प्रावधान है। इस योजना में 30 प्रतिशत राशि मार्जिन मनी अनुदान के रूप में देय होगी। उक्त योजनाओं का लाभ लेने के लिये आवेदन एम.पी. ऑनलाईन अथवा कियोस्क सेंटर से आवेदन कर सकते है।
स्वरोजगार योजना संबंधी योजनाओ का लाभ लेने के लिये इच्छुक व्यक्ति विस्‍तृत जानकारी हेतु जिला हाथकरघा कार्यालय एवं प्रशिक्षण केन्द्र चन्देरी में कार्यालयीन समय में सम्पर्क कर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।