फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेला गया यमुना चैलेंज क्रिकेट ट्रॉफी

शेयर करें:

यमुना चैलेंज क्रिकेट ट्रॉफी का फाइनल टी-20 मैच बुधवार को फिरोजशाह कोटला स्टेडियम पर खेला गया। यमुना को स्वच्छ बनाने, युवाओं को नशे और इंटरनेट की लत से मुक्ति दिलाने के उद्देश्य के साथ ये प्रतियोगिता आयोजित की गई जहां शिव विहार की टीम ने नांगल ठाकरान को 69 रन से मात देकर खिताब अपने नाम किया। भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी और गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने विजेताओ को ट्रॉफी देकर सम्मानित किया।

युवाओं को नशे और इंटरनेट की लत से छुटकारा दिलाने और यमुना को निर्मल बनाने के उद्देश्य से बीजेपी द्वारा कराई गई यमुना चैलेंज क्रिकेट ट्रॉफी का फाइनल टी-20 मैच बुधवार को फिरोजशाह कोटला स्टेडियम पर खेला गया। 280 टीम के बीच हुई इस प्रतियोगिता का फाइनल मैच शिव विहार और नांगल ठाकरान के बीच खेला गया।

बीजेपी के दिग्गज नेताओं, सांसदो और दर्शको की मौजूदगी में खेले गए इस मुकाबले में शिव विहार ने पहले बल्लेबजी करते हुए 130 रन बनाए, टीम के लिए सचिन मिश्रा ने 35 और आकाश तोमर ने सर्वाधिक 36 रन बनाए। जीत के लिए मिले 131 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी ठाकरान की टीम शुरुआत से ही लय में दिखाई नहीं दी और अपने विकेट गंवाती चली गई। शरवन और आकाश तोमर की धमाकेदार गेंदबाजी ने विरोधी टीम को मुकाबले में लौटने का मौका नहीं दिया और पूरी टीम 12.2 ओवर में 61 रन पर सिमट गई। इस तरह शिव विहार की टीम ने मुकाबले को 69 रन से जीत कर खिताब अपने नाम किया।

विजेता टीम को 5 लाख रुपए इनाम दिया गया तो वही उपविजेता टीम को 3 लाख रुपए के इनाम से सम्मानित किया गया। ये पूरा टूर्नामेंट भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी की निगरानी में किया गया और उन्होने इसके सफल समापन पर खुशी जताई और विजेता टीम को ट्रॉफी देकर समानित किया।

खिलाड़ी और जिले के पदाधिकारियों ने इस प्रतियोगिता की जमकर सरहाना की और माना कि देश को नशा मुक्त और स्वच्छ बनाने के लिए ऐसे आयोजन कारगर साबित होते हैं और ये आगे भी होते रहने चाहिए। वहीं पुरुषों के साथ साथ महिला विजेता टीम को भी सम्मानित किया जिन्होंने अपने शानदार प्रदर्शन से ये साबित कर दिया की क्रिकेट में महिलाओं का भी भविष्य काफी उज्जवल है।