उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने शिकागो में दूसरी विश्व हिंदू कांग्रेस को किया संबोधित

शेयर करें:

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शिकागो में दूसरी विश्व हिंदू कांग्रेस को संबोधित किया. इस अवसर पर उपराष्ट्रपति ने स्वामी विवेकानंद को याद किया.

उपराष्ट्रपति कहा कि हिन्दुत्व जीवन जीने की पद्धति है. उपराष्ट्रपति ने कहा कि केवल भारत ही अकेला ऐसा देश है, जिसने सभी धर्मों को उनके वास्तविक रूप में स्वीकार किया है और एक समय में भारत को विश्व गुरु माना जाता था.

उपराष्ट्रपति ने कहा कि आज भी भारतीय अपनी संस्कृति और सभ्यता का पालन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत सबको साथ लेकर चलने में विश्वास रखता है.

उपराष्ट्रपति ने कहा कि भारतीय संस्कृति में महिलाओं को इतना सम्मान दिया जाता है कि देश में सारी नदियों का नाम महिलाओं के नाम पर है. यहां तक कि देश को पितृभूमि नहीं मातृभूमि कहा जाता है.

वेंकैया नायडू ने कहा कि सुधार हमारी संस्कृति का है हिस्सा और आज भारत आर्थिक, सामाजिक समेत दूसरे क्षेत्रों में सुधार कर रहा है, जिससे दूसरे देश सीख रहे हैं.