प्रख्यात शास्त्रीय गायिका किशोरी अमोनकर का निधन

शेयर करें:

जानी-मानी हिंदुस्तानी शास्त्रीय गायिका किशोरी अमोनकर का मुंबई में निधन हो गया। वे 84 वर्ष की थीं और पिछले कुछ दिनों से बीमार थीं। ख़्याल, ठुमरी और भजन गायिकी में दुनियाभर के संगीत रसिकों के दिलों में बसी किशोरी अमोनकर का वास्ता संगीत के जयपुर अतरौली घराने से रहा है।

वैसे तो किशोरी अमोनकर ने अपना सारा जीवन शास्त्रीय संगीत के नाम समर्पित किया, लेकिन उनकी रुचि फिल्म संगीत में भी थी। साल 1964 में आई फ़िल्म गीत गाया पत्थरों ने का टाइटल सॉन्ग उन्होंने गाया था। बाद में 1990 में आई फिल्म दृष्टि में भी उन्होंने गाया था।

अमोनकर का जन्म 10 अप्रैल, 1932 को हुआ था। कला के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए उन्हें 1987 में पद्म भूषण और 2002 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। 2010 में वह संगीत नाटक अकादमी की फेलो बनीं।