ब्रिटेन के सूचना आयोग द्वारा कैंब्रिज एनलिटिका के कार्यालय में छानबीन

शेयर करें:

ब्रिटेन के सूचना आयोग के अधिकारियों ने उच्च न्यायालय के न्यायाधीश द्वारा वारंट जारी किए जाने के बाद कैंब्रिज एनालिटिका के केन्द्रीय लंदन स्थित कार्यालयों में छानबीन शुरू कर दी है। 18 प्रवर्तन अधिकारियों ने डेटा वॉचडॉग को इसके रिकॉर्ड की छानबीन की मंजूरी मिलने के बाद कैंब्रिज एनालिटिका मुख्यालय में प्रवेश किया। डेटा वॉचडॉग की छानबीन का मुख्य ध्यान कैम्ब्रिज एनालिटिका द्वारा फेसबुक डेटा के संकलन और प्रयोग की जांच करना होगा ।

इसकी मूल कंपनी एससीएल और डॉ. अलेक्जेंद्र कोगान ने डेटा एकत्र करने की इस ऐप को विकसित किया था। व्यक्तिगत डेटा की चोरी होने के दावों के बाद ये घोटाला सामने आया । इसका दूरुपयोग अमेरिकी राष्ट्रपति अभियान और यूरोपीय संघ के जनमत संग्रह के परिणाम को प्रभावित करने के लिए किया गया था।

फेसबुक डेटा लीक के मसले पर मुख्य चुनाव आयुक्त ओ पी रावत ने कहा है जंहा तक चुनाव आयोग के साथ फेसबुक के तालुल्क का सवाल है वो सीमित स्तर पर है और उसे लेकर चिंता की कोई बात नही है। डी.डी. न्यूज़ के साथ विशेष बातचीत में उन्होंने बताया कि सूचनाओं के दुरूपुयोग और इसके गलत तरीके से इस्तेमाल की आशंकाओं के मद्देनजर चुनाव आयोग का सचिवालय विभिन्न एजेन्सियों से संपर्क करेगा।