पुलिस को देखकर भागने की कोंशिश में दबोचे गए दो वाहन चोर, 2 एक्टीवा जप्त

शेयर करें:

जबलपुर। वाहन चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा जिले मे पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को जेल से रिहा हुये एवं पूर्व में पकडे गये वाहन चोरों से सघन पूछताछ एवं उनकी गुजर बसर की जांच करते हुये चोरी गये वाहनेां की बरामदगी हेतु तथा स्थान एवं समय बदल-बदल कर थाना क्षेत्र मे चैकिंग प्वाईट लगाकर बिना नम्बर एवं आडे तिरछे नम्बर लिखे हुये वाहनों में सवार संदिग्ध युवकों की चैकिंग हेतु आदेशित किया गया है।

थाना कोतवाली अंतर्गत 25 फरवरी को वाहन चैकिंग के दौरान एक एक्टिवा चालक पुलिस को देखकर एक्टिवा सहित भागने का प्रयास किया जिसे घेराबंदी कर पकडा गया, नाम पता पूछने पर अपना नाम अभिनंदन उर्फ नंदन पिता राजेन्द्र प्रसाद नामदेव उम्र 23 वर्ष निवासी खटीक मोहल्ला जूडी तलैया बताया ली हुई एक्टिवा क्रमांक एमपी 20 एस.ए. 1755 के संबंध मे पूछताछ करने पर कोई कागजात नहीं होना बताया। एक्टीवा चोरी की होने के संदेह पर सघन पूछताछ की तो उक्त एक्टीवा जिला कटनी से चोरी करना स्वीकार किया।

उक्त एक्टिवा के इंजन नम्बर ,चेचिस नम्बर से इंटरनेट पर सर्च करने पर एक्टीवा का सही रजिस्ट्रेशन नम्बर एमपी 21 एमएफ 8495 वाहन स्वामी हरीश कुमार जीवनानी पिता चेतनदास जीवनानी निवासी माधवनगर ,बाबा आटा चक्की के पास ,हेमू कालोनी कटनी के नाम पर दर्ज होना पाया गया।

चुराई हुई एक्टीवा जप्त करते हुये 41(1-4) जाफौ/379 भादवि के तहत कार्यवाही करते हुये जिला कटनी को सूचित किया गया है। आरोपी को गिरफ्तार कर चुराई हुई एक्टीवा जप्त करने में सउनि नरेश झारिया आरक्षक हरिओम, महेश की सराहनीय भूमिका रही।

वही एक दूसरी घटना थाना बेलबाग की है जहाँ 24 फरवरी को गुरंदी बाजार मछली मार्केट मे एक बिना नंबर की काले रंग की एक्टिवा से एक व्यक्ति आते दिखा जो कि पुलिस को देखकर भागने की कोंशिश करने लगा जिसको घेराबंदी कर पकडा एवं नाम पता पूछा जिसने अपना नाम योगेश बेन उर्फ चुल्लू पिता मिलन बेन उम्र 25 वर्ष निवासी लेखा नगर पचपेडी रोड सर्वेन्ट क्वाटर थाना गोराबाजार बताया जिससे एक्टिवा के संबंध में पूछताछ करने पर कोई दस्तावेज न होना बताया सघन पूछताछ पर उक्त एक्टिवा को महाकौशल कालेज के ग्राउंड से करीब डेढ माह पूर्व चोरी करना स्वीकार किया एवं आगे पीछे की नम्बर प्लेट पकडे जाने के डर से निकाल कर हनुमानताल तालाब में रात्रि में फैंकना बताया।

उक्त एक्टिवा के इंजन नम्बर ,चेचिस नम्बर से इंटरनेट पर सर्च करने पर एक्टीवा का रजिस्ट्रेशन नम्बर एमपी 20 एसए 8722 वाहन स्वामी सोमलता कंजड़ निवासी कंजड़ मोहल्ला के नाम पर दर्ज होना पाया गया।

चुराई हुई एक्टीवा जप्त करते हुये 41(1-4) जाफौ/379 भादवि के तहत कार्यवाही की गयीं । आरोपी को गिरफ्तार कर चुराई हुई एक्टीवा जप्त करने में प्रधान आरक्षक महेन्द्र श्ुाक्ला, आरक्षक प्रेमलाल, मनीष, मोह. इस्माइल, राजकुमार, मनीष सिंह, सुनील सिंह की सराहनीय भूमिका रही।