प्रभु को ट्वीट किया, आधा घंटे के अन्दर शराबी ट्रेन से बाहर

शेयर करें:
जबलपुर। रेल मंत्री की ट्विटर के जरिये रेल यात्रियों को तत्काल मदद की खबरें आए दिन सुर्खियां बन रही हैं। चलती ट्रेन में बच्ची को दूध पहुंचाने का मामला हो या फिर बुजुर्ग के लिए इलाज का इंतजाम। एक ट्वीट पर तुरंत मदद पहुंच जाती है। ऐसा ही एक मामला जबलपुर से मुंबई के लिए रवाना गरीब रथ का सामने आया।
जानकारी के अनुसार नरसिंहपुर के पास जी-7 कोच की 22 नंबर बर्थ पर यात्री रतन कुमार शराब पी रहा था। शराब पीने की शिकायत एक यात्री ने इसकी शिकायत तत्काल रेल मंत्री के ट्विटर एकाउंट पर कर दी। शिकायत करने के बाद इस घटना पर तत्काल एक्शन लिया गया और 30 मिनट से भी कम समय में ट्रेन में बैठे शराबी को डिब्बे से बाहर कर दिया।
समझाने पर नहीं माना तो स्टेशन पर उतारा
जानकारी के मुताबिक पैसेंजर ने 8.40 पर शिकायत को लेकर रेल मंत्री को ट्वीट किया था। रेलवे बोर्ड से जबलपुर मंडल के कंट्रोल रूम पर खबर पहुंचते ही इसकी जानकारी ट्रेन में घूम रही आरपीएफ स्क्वॉड को दी। रात के तकरीबन 9.10 पर आरपीएफ स्क्वॉड उक्त शराबी यात्री के पास जा पहुंची। स्क्वॉड जब यात्री के पास पहुंची तो वो अपनी सीट पर बैठकर शराब पी रहा था। जवानों से उसे हिदायत दी, लेकिन जब वो नहीं माना तो आरपीएफ ने उसे ट्रेन से उतारकर पिपरिया आरपीएफ थाने के हवाले कर दिया।