तीन तलाक: मोदी बोले- मुस्लिम महिलाओं को मिलेगा बराबरी का हक

शेयर करें:

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को #TripleTalaq के मुद्दे पर अपना ऐतिहासिक फैसला सुनाया। सुप्रीम कोर्ट की 5 जजों की संवैधानिक पीठ ने तीन तलाक को #असंवैधानिक करार दिया है। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद पीएम मोदी ने कहा कि यह फैसला ऐतिहासिक है। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। पीएम मोदी ने कहा कि महिला सशक्तिकरण की दिशा में यह बड़ा कदम है। इससे मुस्लिम महिलाओं को बराबरी का हक़ मिलेगा।

वहीं भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष अमित शाह ने भी कोर्ट के फैसले का स्वागत किया है। शाह ने बयान जारी कर कहा कि कोर्ट का फैसला मुस्लिम महिलाओं के लिए नए युग की शुरुआत है। शाह ने कहा कि यह फैसला न्यू इंडिया की ओर बढ़ता हुआ एक कदम है। शाह तीन ने कहा कि मुस्लिम महिलाओं के लिए स्वाभिमान पूर्ण एवं समानता के एक नए युग की शुरुआत।

वहीं यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर कहा कि हम इस फैसले का स्वागत करते हैं। इसके माध्यम से मुस्लिम महिलाओं को न्याय मिलेगा।

वहीं केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने भी सुप्रीन के फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि तीन तलाक पर दिए गए कोर्ट के इस ऐतिहासिक फैसले को धर्म के चश्मे से नहीं देखना चाहिए।

कांग्रेस ने क्या कहा ?
-हम तीन तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं
-यह भारत में मुस्लिम महिलाओं के समान अधिकारों के लिए एक प्रगतिशील, धर्मनिरपेक्ष निर्णय है।