शहीद को सेना के जवानो ने दिया गार्ड ऑफ ऑनर, हजारो नम आंखो ने अंतिम विदाई दी

शेयर करें:

शहडोल@ जम्मू कश्मीर के गुरेज सेक्टर में हिमस्खलन मे शहीद हुए शहडोल के वीर सपूत देवेन्द्र सोनी को शहडोल सहित संभाग के जनप्रनिधियों प्रशासनिक अधिकारियो, पुलिस के उच्च अधिकारियों गणमान्य नागरिको और स्कूली छात्र-छात्राओ ने अष्णुपूर्ण अंतिम विदाई दी। देर रात शहीद देवेन्द्र सोनी के पार्थिव शरीर शहडोल नगर पहुंचने की सूचना मिलने पर शहीद के पार्थिव शरीर के दर्शन के लिए हजारो लोगों का हूजूम उमड पड जहॉ लोगो ने देश की सेवा करते शहीद हुए स्वार्गीय शहीद देवेन्द्र सोनी के पार्थिव शरीर के दर्शन किये और उन्हे श्रद्धांजली अर्पित की एवं शहीद के परिजनों से मिलकर शोक संवेदेनाऐ व्यक्त की। शहीद देवेन्द्र सोनी का पार्थिव शरीर नागरिको के दर्शनार्थ मण्डी शेड गंज शहडोल में रखा गया था। जहॉं विधायक जयसिंहनगर श्रीमती प्रमिला सिंह, कमिश्नर शहडोल संभाग वी.एम.शर्मा, पुलिस महा निरीक्षक डी.के. आर्य उप पुलिस उप पुलिस महा निरीक्षक सुधीर लाड कलेक्टर मुकेश शुक्ला सेना के कर्नल,राजेश पुनिमा,अध्यक्ष नगर पालिका प्रकाश,जगगवानी,समाजसेवी अनुपम,अनुराग अवस्थी अतरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवकुमार, नेताम, एस.डी.एम सोहागपुर रमेश सिंह पूर्व विधायक सुन्दर सिंह एवं गणमान्य नागरिक शहीद देवेन्द्र सोनी के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित किए और श्रृद्धांजलि अर्पित की।

शहीद देवेन्द्र सोनी की शवयात्रा में हजारो नागरिक शामिल हुए शहडोल नगर के गांधी चौके फुव्वारा चौक, नगरपालिका चौक एवं अन्य चौराहो में मुख्य मार्ग पर खडे नागरिको ने पुष्प वर्ष की और शहीद को अश्रपूर्ण विदाई दी। मण्डी शेड शहडोल से प्रारंभ हुई शहीद की अंतिम यात्रा में हजारों लोग शामिल हुए। शहीद की अंतिम यात्रा में शहडोल संसदीय क्षेत्र के सांसद एवं आदिमजाति कल्याण मंत्री ज्ञान सिंह, अध्यक्ष जिला पंचायत नरेन्द्र मरावी, विधायक जैतपुर जयसिंह मरावी, विधायक ब्यौहारी रामपाल सिंह अध्यक्ष जनपद पंचायत श्रीमती नीलम सिंह,अनिल गुंप्ता,राजेश गुप्ता,नीरज द्विवेदी,अमित मिश्रा,अनिल द्विवेदी, डॉ. ए.के.श्रीवास्तव,पार्षद श्रीमती उर्मिला कटारे,पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती सत्यभामा गुप्ता,श्रीमती कल्पना सोनी सहित हजारों गणमान्य नागरिग शामिल हुए। शहीद देवेन्द्र सोनी के पार्थिव शरीर के अंतिम संस्कार के पूर्व सेना की टुकडी ने शहीद देवेन्द्र सोनी से सम्मान में गार्ड ऑफ ऑनर दिया। इसके पश्चात हिन्दु रीती से शहीद देवेन्द्र सोनी के अंतिम संस्कार की विधी प्रारंभ हुई मुखाग्नि शहिद के भाई ने दी।