छात्रों की सुरक्षा को लेकर सीबीएसई ने उढ़ाया कदम, उलघन पर होगी कार्रवाई

शेयर करें:

भोपाल। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा मंडल ने स्कूल की सुरक्षा और अनेक मापदंड को देखते हुए एक फैसला लिया है की अब से स्कूल की कोई भी शिक्षक और छात्र अपनी व्यक्तिगत तस्वीर कंप्यूटर पर अपलोड नहीं कर सकेंगे। और ना ही स्कूल की बेवसाइट पर भी किसी की व्यक्तिगत तस्वीर अपलोड नहीं की जा सकेगी। ताकि स्कूल की छात्राओं के साथ किसी भी प्रकार की साइबर घटना ना हो जाए।

ये निर्णय इसलिए लिया गया है क्योंकी कभी कभी छात्र मस्ती-मजाक में अपनी पर्सनल फोटो दाल देते है जिसका दूसरे लोग जमकर गलत फायदा उठाते है इससे बचने के लिए सीबीएसई ने शिक्षकों को लगातार नजर रखने के लिए कहा की छात्राओं के ऊपर नजर राकी जाए ताकि वो इस प्रकार के अपराध से बच सके। आगे सीबीएसई ने सुझाव दिया है की आयु समूह के हिसाब से करें वेबसाइट का चयन किया जाए ताकि सभी काम सही रूप से चले।

इसके अलावा सीबीएसई ने खा की सुरक्षा के मापदंड के हिसाब से केवल लाइसेंस वाले सॉफ्टवेयर का उपयोग ही करे क्योंकी इनमे जानकारी गुप्त रहती है इसके अलावा डिवाइस के सुरक्षित उपयोग का ड्रॉफ्ट भी अनिवार्य रूप से बनाना होगा। बच्चो को किसी भी प्रकार का फर्जी एकाउंट न बनने दें अगर वह ऐसा करता है तो उसके प्रति सख्त कारवाही की जाए।