बरसात के मौसम में कई रोगों के होने की होती संभावना

शेयर करें:

बरसात के मौसम में पेट की कई बीमारियों का खतरा रहता है उन्ही में से एक है गैस्ट्रोएंट्राइटिस यानि जठरांत्रशोथ, इसके जरुरी है कि बरसात के मौसम में विशेष प्रकार की सावधानी बरतें

बरसात के मौसम में त्वचा रोग, डेंगू-मलेरिया जैसी बीमारियों की अधिक सम्भावना होती है वहीं पेट की बीमारियों के मामले भी सामने आते हैं। बरसात में कई बीमारियों का खतरा होता हैं ऐसे में गैस्ट्रोएंट्राइटिस के मामले बढ़ जाते हैं साथ ही बरसात में भोजन व पानी के दूषित हो जाने की सबसे अधिक समस्याएँ सामने आती है।

ऐसे में जरुरी है कि आप अपने आस-पास और अपने खान-पान में पूरी तरह से सफाई बरतें, खाना बनाते समय सफाई रखें, बाज़ार का खाना न खाएं, खाना बनाने वाले बर्तन साफ़ हों, पानी उबालकर पिएं, खाना पकाने, परोसने और खाने से पहले अच्छी तरह हाथ धोएं , पानी पीने के बर्तन में उंगलियां न डालें बासी खाना न खाएं इसके अलावा शरीर में पानी की कमी न होने दें, अपने बचाव के लिए पहले से ही समय समय पर जीवन रक्षक घोल पीते रहे और स्थिति बिगड़े तो तुरंत विशेषज्ञ को दिखाएं।