तांडव विवाद: अमेजन की कंटेंट हेड, सीरीज के डायरेक्टर-प्रोड्यूसर पर लखनऊ में दर्ज़ कराई गयी इ एफआईआर

शेयर करें:

तांडव वेब सीरीज पर लगातार विवाद बढता जा रहा है। इस पूरे मामले पर अब लखनऊ इ एफआईआर दर्ज़ कराई गयी है। लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में अमेजन प्राइम इंडिया की ओरिजिनल कंटेंट हेड अरुणा पुरोहित, सीरीज के डायरेक्टर अली अब्बास जफर, प्रोड्यूसर हिमांशु कृष्ण मिश्रा और राइटर गौरव सोलंकी के खिलाफ रविवार रात FIR दर्ज की गई। FIR दर्ज होने के तुरंत बाद बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने आरोपियों को चेतावनी दी। उन्होंने सोशल मीडिया पोस्ट में लिखा- जन भावनाओं से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जल्दी ही ‘तांडव’ विवाद से जुड़े आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

पूरा मामला:-
ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेजॉन प्राइम पर रिलीज हुए “तांडव” वेब सीरीज को बैन करने की मांग सोशल मीडिया पर की जा रही है.. सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को लोगों ने ई-मेल, वीडियो और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से तांडव वेब सीरीज को बैन करने की मांग की है..भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि इस वेब सीरीज में दलितों का बुरी तरह से अपमान किया गया है. उन्होंने कहा कि हिंदू मुस्लिमों को इस वेब सीरीज में लड़ाने और भड़काने वाली बातें कही गई है यह एक जहर से भरी हुई वेब सीरीज है जो इस देश में आपस में लोगों को लड़ाना चाहती है. यह वेब सीरीज लोगों के बीच जातिगत हिंसा और धार्मिक हिंसा को बढ़ावा देती है. इनके अलावा कई अन्य नेताओं ने वेब सीरीज को बैन करने की मांग की है.

आखिर क्यों बैन की उठी मांग,पूरा मामला:-
वेब सीरीज के पहले एपिसोड में दिखाया गया है कि ऐक्टर जीशान अय्यूब यूनिवर्सिटी के फंक्शन में भगवान शिव के वेश में दिखाई दे रहे हैं। जीशान अय्यूब यूनिवर्सिटी के छात्रों से कहते हैं कि आखिर आपको किससे आजादी चाहिए। इसी बीच नारद के वेश में मंच संचालक कहता है, ‘नारायण-नारायण। प्रभु कुछ कीजिए। रामजी के फॉलोअर्स लगातार सोशल मीडिया पर बढ़ते ही जा रहे हैं। मुझे लगता है कि हमें भी कुछ नई रणनीति बना ही लेनी चाहिए।’ इस पर जीशान अय्यूब कहते हैं, ‘क्या करूं मैं तस्वीर बदल दूं क्या?’ इसके बाद मंच संचालक कहता है, ‘भोलेनाथ आप तो बहुत ही भोले हैं।’