टी.आई. व दो आरक्षकों के खिलाफ, उन्हीं के थाने में मामला दर्ज

शेयर करें:

जबलपुर@ (राजेश नामदेव) अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज होना अपने सुना होगा लेकिन थाना प्रभारी के खिलाफ उसी के थाने में केस दर्ज हो ये आपने नहीं सुना होगा। लेकिन ये हकीकत है जबलपुर में एक वकील ने थाना प्रभारी सहित दो पुलिसकर्मियों पर मारपीट का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ थाने में केस दर्ज कराया।

मदन महल थाना क्षेत्र में पुलिसकर्मी वाहन चेकिंग कर रहे थे इसी दौरान बिना हेलमेट बाइक चला रहे वकील संदीप माली को पुलिसकर्मियों ने रोका और चालान काट दिया। वकील का चालान कटने के बाद वकील भड़क गया और पुलिसकर्मियों से जमकर कहासुनी हुई जिसके बाद पुलिसकर्मियों ने वकील को थाने लेकर आए। वकील संदीप का आरोप है की थाना प्रभारी संदीप अयाची ने उनके साथ थाने में जमकर मारपीट की और उन्हें थाने में बंद कर दिया। जिसके बाद जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सुधीर नायक अपने साथियों के साथ मदन महल थाने पहुंचे और उन्होंने जमकर हंगामा किया और तीनों दोषी पुलिसकर्मियों को तुरंत प्रभाव से निलंबित करने की मांग की. हंगामा बढ़ने पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने पुलिसकर्मी मीनाक्षी शुक्ला और हेमराज को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया और थाना प्रभारी को संदीप अयाची को नोटिस जारी किया बाद में वकील संदीप माली ने थाना प्रभारी और दो पुलिसकर्मियों के खिलाफ उन्हीं के थाने में एफआईआर दर्ज कराई.जबलपुर का यह पहला मामला है जब किसी थाना प्रभारी पर उसी के थाने में उसी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई हो.