गणेश उत्सव को लेकर SP सिद्धार्थ बहुगुणा ने ली अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों की बैठक, दिये ये निर्देश

शेयर करें:

पुलिस कन्ट्रोलरूम जबलपुर मे 7-9-21 को रात्रि 10 बजे पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.), द्वारा बैठक ली गयी। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर रोहित काशवानी (भा.पु.से.), अति. पुलिस अधीक्षक शहर दक्षिण/अपराध गोपाल प्रसाद खाण्डेल , अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर उत्तर/यातायात संजय कुमार अग्रवाल, अतिरिक्त ग्रामीण शिवेश सिंह बघेल, सहित जिले में पदस्थ समस्त राजपत्रित अधिकारी एवं थाना प्रभारी उपस्थित थे।

गणेश पर्व की गयी समीक्षा

पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) द्वारा बैठक मे सर्वप्रथम गणेश उत्सव पर्व मनाये जाने के सम्बंध में शासन द्वारा जारी गाईड लाईन कडाई से पालन कराने हेतु सभी राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को थाना क्षेत्र में गणेश उत्सव के आयोजकों, डीजे, लाईट के संचालकों , मूर्तिकारों, एवं भण्डारे का आयोजन करने वालों की बैठक लेकर सभी को जारी निर्देशों से अवगत कराने हेतु आदेशित किया गया था के सम्बंध में विस्तार से समीक्षा की गयी।

दिये ये निर्देश

आपने उपस्थित सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि सी.एम. हेल्प लाइन से संबंधित शिकायतों की प्रतिदिन थाना प्रभारी स्वयं सुनवाई करते हुए शिकायतकर्ता से विनम्रता पूर्वक चर्चा करें एवं उनकी जो भी शिकायत है वैधानिक कार्यवाही करते हुए उसका प्राथमिकता के आधार पर त्वरित निकाल करें एवं शिकायतकर्ता को की गई कार्यवाही से अवगत भी करायें, साथ ही आप सभी राजपत्रित अधिकारी भी अपने-अपने अनुभाग की सीएम हेल्प लाइन से संबंधित शिकायतों की सुनवाई हेतु प्रति सप्ताह शनिवार के दिन अनुभाग के किसी भी एक थाने में कैंप लगायें, एवं लंबित शिकायतों की स्वयं सुनवाई करते हुये निकाल करायें।

महिलाओं, बच्चों, वृद्धों एवं समाज के कमजोर वर्गो के प्रति संवेदनशील रहते हुये इनके द्वारा की गयी शिकायतों पर तत्काल विधिसंगत कार्यवाही करते हुये राहत पहुचंाये, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहंी होना चाहिये , आपके द्वारा की गयी कार्यवाही निष्पक्ष एवं पारदर्शी होनी चाहिए।

अपराध समीक्षा के दौरान आपके द्वारा थानों में लंबित धारा 363 भादवि के प्रकरण में नाबालिक बालक/बालिकाओं की दस्तयाबी के प्रयास एवं लंबित अनुसूचित जाति/जनजाति के प्रकरणों की समीक्षा करते हुये अपहृत अवयस्क बालक/बालिकाअेंा की हर सम्भव प्रयास कर दस्तयाब करने हेतु तथा एससी/एसटी के प्रकरणों मे पीडित को तत्काल राहत राशि दिलाये जाने हेतु आदेशित किया गया।

इसके साथ ही आपके द्वारा थानावार हत्या, हत्या का प्रयास, प्रतिबंधात्मक कार्यवाही, लघु अधिनियम, महिला सम्बंधी अपराध एवं एस.सी.एस.टी के अपराधो की त्रिवर्षिय तुलनात्मक समीक्षा की गयी तथा प्रतिबंधात्मक एवं लघु अधिनियम की कार्यवाही के सम्बंध मे आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

आगामी दिनों में आने वाले त्योहार को दृष्टिगत रखते हुये बैठक में उपस्थित सभी अधिकारियों को आदेशित किया कि थानों में लंबित अपराधों में फरार आरोपी, फरार उद्घोषित अपराधी, तथा एैसे आरोपी जिनका फरारी मे चालान पेश किया गया है, एवं एैसे आरोपी जो कि 173(8) जाफौ में वान्टेड हैं, उनकी तलाश पतासाजी कर अविलम्ब गिरफ्तारी की जाये साथ ही थाना क्षेत्र के सक्रीय आसमाजिक तत्वों, गुण्डे बदमाशो के विरूद्ध उनके आपराधिक रिकार्ड को दृष्टिगत रखते हुये प्रभावी प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करें, आपकी कार्यवाही से पुलिस का बदमाशों में खौफ एवं आम आदमी मे विश्वास होना चाहिये, एैसे गुण्डे बदमाश जिन पर प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गयी है, यदि उन्होनें बंधपत्र का उल्लंघन किया गया है तो उनके विरूद्ध तत्काल 122 जा.फौ. के तहत कार्यवाही करें।

पुलिस अधीक्षक जबलपुर सिद्धार्थ बहुगुणा (भा.पु.से.) ने कहा कि जिले में पदस्थ समस्त अधिकारी/कर्मचारी बहुत ही अच्छी ड्यूटी कर रहे हैं, थाने में एक रजिस्टर रखा जाये, रखे गये रजिस्ट्रर में एैसे अधिकारी/कर्मचारी जो डेंगू/कोराना से संक्रमित होकर अस्पताल मे उपचारार्थ भर्ती है या होम क्वारेंटाईन है उनकी स्वास्थ सम्बंधी अद्यतन स्थिति का उल्लेख करते हुये उनसे प्रतिदिन सम्बंधित थाना प्रभारी एवं राजपत्रित अधिकारी चर्चा करें कि उन्हें व उनके परिवार में किसी प्रकार की कोई समस्या तो नहीं है, यदि है तो तत्काल उसका समाधान करते हुये मुझे अवगत करायें, साथ ही रखे गये रजिस्टर में चर्चा का उल्लेख थाना प्रभारी, नगर पुलिस अधीक्षक/एस.डी.ओ.पी. एंव अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा किया जावे, हमारा मुख्य उद्देश्य है अधिकारियों एवं क्रर्मचारियों तथा उनके परिवार को किसी प्रकार की कोई समस्या न हो । साथ ही कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के सम्बंध में थानों मे पदस्थ अधिकारी/कर्मचारियो को प्रतिदिन गणना मे ब्रीफ किया जाये कि ये लडाई लंबी है, ड्यूटी के दौरान सामाजिक दूरी बनाये रखते हुये हमेशा मास्क लगाकर रखें, सैनेटाईजर का उपयोग करें इसी प्रकार जब फरियादी थाने आता है मास्क लगाया हुआ हो सुनिश्चित करें।