समाधान एक दिन-तत्काल सेवा व्यवस्था के अंतर्गत प्रसूती अवकाश सहायता योजना को स्वीकृति

शेयर करें:

रायसेन @ समाधान एक दिन-तत्काल सेवा व्यवस्था के अंतर्गत प्रसूती अवकाश सहायता योजना को स्वीकृति प्रदान करने के संबंध में सभी कलेक्टर्स, सीएमएचओ, सिविल सर्जन सह अस्पताल अधीक्षक तथा सभी विकासखण्ड चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। तत्काल सेवा प्रदाय करने के उद्देश्य से एक दिन में श्रमिक संवर्ग की योजनाओं मुख्यमंत्री मजदूर सुरक्षा योजना, मध्यप्रदेश भवन निर्माण एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार मण्डल, मध्यप्रदेश हम्माल एवं तुलावटी कल्याण योजना, मध्यप्रदेश शहरी घरेलू कामकाजी महिला कल्याण योजना, मध्यप्रदेश हाथठेला एवं रिक्शा चालक योजना, मुख्यमंत्री (पथ में विक्रय करने वाले, फेरीवाले) शहरी गरीबों के लिए कल्याण योजना तथा मुख्यमंत्री केश शिल्पी योजना के अंतर्गत पंजीकृत परिवारों को प्रसूति अवकाश सहायता योजना का लाभ 60 दिवस की मजदूरी के समतुल्य राशि का भुगतान किया जाएगा।

इस योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिक संवर्ग की योजना में प्रसव के पूर्व पंजीकृत होना अनिवार्य है। इस योजना का लाभ शासकीय स्वास्थ्य संस्था में प्रसव होने पर दिया जाता है तथा अधिकतम 2 प्रसव पर सुविधा प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए संबंधित लोक सेवा केन्द्र पर आवेदन करना होगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए श्रमिक संवर्ग की चिन्हित योजना में प्रसव के पूर्व पति अथवा पत्नि का पंजीकृत होने का प्रमाण पत्र पंजीयन कार्ड होना अनिवार्य है। साथ ही शासकीय संस्थागत प्रसव का प्रमाण पत्र, अधिकतम दो प्रसव का प्रमाण पत्र, समग्र आईडी, मातृत्व एवं शिशु स्वास्थ्य कार्ड, आधार कार्ड की प्रतिलिपि तथा आधार लिंक बैंक खाते की पासबुक की प्रति होना अनिवार्य है।
आवेदन करने की प्रक्रिया

इस योजना के तहत पात्रतानुसार पूर्ण दस्तावेजों सहित आवेदन लोक सेवा केन्द्र में स्वीकार्य किए जाएंगे। आवेदन का पंजीयन लोक सेवा केन्द्र पर ऑपरेटर द्वारा ऑनलाईन किया जाएगा तथा आवेदन प्रस्तुति की अभिस्वीकृति लोक सेवा प्रदाय की गारंटी अधिनियम के अंतर्गत निर्धारित प्रारूप में आवेदन को प्रदाय की जाएगी। आवेदन भरते समय आवेदक या अन्य किसी संबंधित व्यक्ति का मोबाईल नम्बर भरना अनिवार्य होगा। इसके अलावा उपलब्ध होने पर आधार एवं ईमेल आईडी का भी उल्लेख करना होगा। आवेदन का पंजीयन लोक सेवाओं के प्रदान की गारंटी नियम 2017 के तहत निर्धारित पंजी में किया जाएगा।