कौशांबी: अस्पताल से बदमाश को भगाने में मदद करने वाला सिपाही गिरफ्तार

शेयर करें:

कौशांबी. स्वरूपरानी नेहरू अस्पताल से बदमाश गुलशन को भगाने में मददगार के आधार पर सिपाही पवन को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उक्त सिपाही सरायअकिल थाने पर तैनात था. उसकी अस्पताल से फरार बदमाश गुलशन से दोस्ती थी. पुलिस मुठभेड़ में गोली लगने से जख्मी होने पर गैंगरेप का आरोपी गुलशन को स्वरूपरानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहां से बाथरूम की जाली तोड़कर वह भाग निकला था.

कौशांबी के सरायअकिल निवासी गुलशन त्रिपाठी 21 फरवरी को पुलिस मुठभेड़ में जख्मी हुआ था. उसके पैर में गोली लगी थी. पुलिस अभिरक्षा में उसे स्वरूप रानी अस्पताल प्रयागराज में भर्ती कराया गया था. उसके साथ कौशांबी जिले के सिपाही की ड्यूटी लगी थी. सोमवार की रात में करीब 2 बजे बाथरूम जाने के बहाने वह भाग निकला था.

घटना के संबंध में बताया जाता है कि कौशाम्बी कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली छात्रा से प्रेम संबंध पूरामुफ्ती के राजू के साथ था. बीते शुक्रवार सुबह छात्रा सिलाई सीखने की बात कहकर घर से निकली थी. इसके बाद उसने फोन करके अपने प्रेमी राजू को बुला लिया. राजू अपनी प्रेमिका को बाइक से सूनसान स्थान पर ले गया.

आरोप है कि वहां पर राजू ने अपने साथी सरायअकिल के गुलशन, सत्यम व एक अज्ञात युवक के साथ छात्रा से गैंगरेप किया. इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर राजू को गिरफ्तार कर लिया. बीते शनिवार को पुलिस ने गुलशन को गिरफ्तार करने गई तो उसने फायरिंग कर दी. पुलिस की जवाबी फायरिंग में गुलशन के पैर में गोली लग गई जिससे वह जख्मी हो गया. उसे इलाज के लिए स्वरूपरानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां से वह भाग निकला था.