सिहोरा : दबंगो ने तोड़ दिया संत का समाधी स्थल, आक्रोशित ग्रामीणों ने दी उग्र आंदोलन की चेतावनी

शेयर करें:

जबलपुर। सिहोरा में पूजनीय संत की समाधी स्थल को कुछ दबंगो ने तोड़ दिया,इतना ही नहीँ दबंग समाधी स्थल तोड़कर उनकी पेटी भी ले गए,ग्रामीणों के आस्था के इस समाधी स्थल टूटने की जानकारी जैसे ही ग्रामीणों को लगी तो सैकड़ो की संख्या में आक्रोशित ग्रामीणों ने सिहोरा थाना पहुँचकर दबंगो के खिलाप कार्यवाही की मांग करते हुए प्रसासन को यह चेतावनी भी दी है की यदि जल्द से जल्द आरोपियों के खिलाप कार्यवाही नहीँ हुई तो, ग्रामीण उग्र आंदोलन करने बाध्य होंगे।

दस वर्ष पूर्व बनी थी समाधी
मामला सिहोरा थाना क्षेत्र के गोरहा ग्राम का है वहीं ग्रामीणों के साथ थाना पहुँचे गोरहा सरपँच अनिल मांझी ने बताया की गोरहा( भिटौनी) में स्तिथ संत श्री श्री 1008 श्री प्रबुद्ध शुक्ल महाराज की समाधी स्थल लगभग 10 वर्ष पूर्व ग्राम व उनके परिवार के सहयोग से बनाई गई थी,जहाँ पर ग्रामीणों द्वारा पूजा की जाती रही है, संत जी की जन्मभूमि गोरहा ग्राम है, और वे बालब्रम्हचारी थे। कई वर्षों उन्होंने तपस्या की,और उन्होंने अपने जीते समय यह इक्छा की थी की उनकी समाधी उनकी ही जमीन में बनाई जाए जिसके बाद सभी ग्रामीणों व उनके परिवार द्वारा गोरहा ग्राम में ही उनको समाधी दी गई थी, जिसे दबंगो द्वारा जे सी बी से तोड़ दिया गया है।

वहीँ ग्रामीणों ने आरोप लगाते हुए बताया की संतोष मिश्रा निवासी खरखरी तहसील बहोरीबंद जिला कटनी द्वारा महाराज जी के समाधी स्थल को जे सी बी से खोदकर फेंक दिया गया है ,इस बात से पूरे ग्राम में आक्रोश व्याप्त है ,ग्रामीणों की मांग है की आरोपी संतोष मिश्रा और उसके साथियों के खिलाप सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए।

दो दिन का अल्टीमेटम नहीँ तो होगा उग्र आंदोलन
वहीँ सरपँच सहित सेकड़ो ग्रामीणों ने आरोपियों के खिलाप जल्द से जल्द कार्यवाही की मांग करते हुए कहा की यदि दो दिनों के अंदर प्रसासन आरोपियों के खिलाप कार्यवाही नहीं करता तो ग्रामीण उग्र आंदोलन करने बाध्य होंगे जिसकी जबाबदारी स्वयं प्रसासन की होगी।

सिहोरा टी आई बोले जल्द होगी कार्यवाही
वहीं इस मामले में ग्रामीणों की शिकायत पर पुलिस भी एक्शन के मूड में है ,सिहोरा टी आई गिरीश धुर्वे ने ग्रामीणों को आस्वासन देते हुए कहा की आरोपियों को बक्सा नहीं जाएगा जल्द ही उनके खिलाप सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी।