शिवराज का बड़ा बयान अब तो जल्दी फ्लोर टेस्ट कराना चाहिए

शेयर करें:

सीहोर। बैंगलुरु में सिंधिया समर्थक कांग्रेस के बागी विधायकों की प्रेस वार्ता के बाद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान सामने आय़ा है। शिवराज का कहना है कि विधायक साथियों ने स्पष्ट कर दिया है कि वह अपनी मर्जी से हैं इस सरकार के खिलाफ है और सब ने खुलकर आज देश के सामने अपनी बात रखी है। अब कमलनाथ जी  इधर उधर की बात कर भैया जल्दी फ्लोर टेस्ट कराओ। इससे दूध का दूध और पानी का पानी साफ साफ हो जाएगा ।अगर बहुमत में हो तो भागते क्यों ।फ्लोर टेस्ट से डरते क्यों। यह टाइम खींचने की कोशिश की जा रही है ।

शिवराज ने कहा कि ये सभी प्रय़ास कर रहे है सरकार बन जाए लेकिन अब यह सरकार बच नहीं सकती। सोमवार को भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने सरकार से सामने परेड की है। संख्या का गणित स्पष्ट है यह सरकार बहुमत खो चुकी है और भारतीय जनता पार्टी आज उपलब्ध विधानसभा की संख्या इसलिए एकमात्र तरीका है यह सरकार जाएगी। लेकिन मुझे आश्चर्य है रोज फैसला कर रही है।

सरकार की नियुक्तियों के फैसले पर शिवराज सिंह चौहान ने सवाल उठाया। शिवराज ने महिला आयोग अध्यक्ष की नियुक्ति और पीएसी की नियुक्तियों पर उठाया सवाल।शिवराज ने कहा कि जाते-जाते जितना लोगों को उपकृत कर सकते हैं करने की कोशिश कर रही है सरकार। अब नियुक्तियों का काम दूसरों को करने हैं। यह नियुक्तियां सरकार की बदहवास सी को दर्शाते हैं। इन नियुक्तियों को शिवराज सिंह चौहान ने बताया अवैधानिक। राज्यपाल को इन नियुक्तियों को लेकर भी देंगे जानकारी।