लम्बित प्रकरणों का निराकरण करने में गंभीरता लायें

शेयर करें:

उज्जैन @ जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी संदीप जीआर एवं अपर कलेक्टर वसन्त कुर्रे ने संयुक्त रूप से समयावधि-पत्रों की समीक्षा कर अधिकारियों को निर्देश दिये कि अपने-अपने विभागों में अलग-अलग प्रकार के लम्बित प्रकरणों का गंभीरता से समय-सीमा में निराकरण किया जाये। सीएम हेल्पलाइन 181 में प्राप्त होने वाली शिकायतों का निराकरण भी शीघ्र किया जाये।

इसी प्रकार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा समय-समय पर उज्जैन जिले में की गई घोषणाओं को भी समय-सीमा में पूरा किया जाये। जिन विभागों में घोषणा पूर्ण नहीं हुई है, उन कामों को अपडेट कर पूर्ण किया जाये। कुर्रे ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि विभागों में अब तक मुख्यमंत्री की घोषणाओं पर की गई कार्यवाही की जानकारी सीईओ जिला पंचायत को अनिवार्य रूप से भेजें।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी संदीप जीआर ने क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिये कि गत दिनों समय-समय पर मुख्यमंत्री के कार्यक्रमों, समारोह में लगने वाली बसों के किराये का भुगतान किया जाये। इसी प्रकार बैठक में भावान्तर भुगतान योजना, गेहूं उपार्जन की भी समीक्षा की गई। मुख्य कार्यपालन अधिकारी संदीप ने असंगठित श्रमिकों के पंजीयन की समीक्षा की और सहायक श्रमायुक्त को निर्देश दिये कि निर्धारित तिथि तक पंजीयन की कार्यवाही पूर्ण की जाये। बैठक में सहायक श्रमायुक्त ने अवगत कराया कि अभी तक ग्रामीण क्षेत्रों में 218 श्रमिकों का पंजीयन किया जा चुका है। नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्रों के असंगठित श्रमिकों के पंजीयन की कार्यवाही चल रही है।