बालाघाट में Corona के मद्देनजर धारा 144 लागू, मास्‍क नहीं पहना तो लगेगा जुर्माना

शेयर करें:

बालाघाट । मध्‍य प्रदेश के बालाघाट जिले की सीमा से लगे महाराष्‍ट्र राज्‍य के कई शहरों में लॉकडाउन और पाबंदियों को देखते हुए बालाघाट में Corona के मद्देनजर धारा 144 लागू, मास्‍क नहीं पहना तो लगेगा जुर्माना। महाराष्‍ट्र की सीमा (Maharashtra Border) से लगे मध्‍य प्रदेश के बालाघाट (Balaghat) जिले में कोविड-19 वायरस संक्रमण के प्रकरणों में वृद्धि को देखते हुए मंगलवार को पूरे जिले में आईपीसी की धारा-144 लागू कर दी गई.

मास्क और सोशल डिस्टेंशिंग का पालन कराने के लिए दल गठित कर दिए गए हैं और मास्क नहीं लगाने वालों पर होगी जुर्माने की कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि एमपी के बालाघाट से महाराष्‍ट्र की सीमा लगी हुई है. दरअसल, महाराष्‍ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि को देखते हुए कई शहरों में लॉकडाउन समेत कई तरह की पाबंदियां लगाई गईं है.

दरअसल,आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में मंगलवार को 6,218 नए मामले सामने आने के बाद राज्य में संक्रमण के मामले बढ़कर 21,12,312 हो गए है. अकोला संभाग में सबसे अधिक 1392 नए मामले सामने आए थे. अमरावती, यवतमाल, बुलढाना, अकोला और वाशिम जिले हाल ही में कोविड-19 के नए केन्द्र बनकर बनकर उभरे हैं.

बता दें कि मध्य प्रदेश में मंगलवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 248 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गये लोगों की कुल संख्या 2,59,969 तक पहुंच गई थी. मध्‍य प्रदेश में इस कोरोना वायरस के संक्रमण से मरने वालों की संख्या 3,855 हो गई है.

मंगलवार को राज्य के 52 जिलों में से 15 जिलों में कोरोना वायरस संक्रमण का एक भी नया मामला नहीं आया था, वहीं, कोविड-19 के 102 नये मामले इंदौर में आये, जबकि भोपाल में 40 नये मामले आए थे. मंगलवार तक प्रदेश में कुल 2,59,969 संक्रमितों में से अब तक 2,53,963 मरीज स्वस्थ होकर घर चले गए थे और 2,115 मरीज़ों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है. 200 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी.