गंगा स्नान के दौरान बहाव में बह गए बुजुर्ग को एसडीआरएफ टीम ने बचाया

शेयर करें:

प्रयागराज. सावन के पहले साेमवार काे प्रयागराज में गंगा स्नान के लिए लाेगाें की भीड़ जुटी थी. इस दाैरान एक बुजुर्ग जब गंगा में नहाने उतरे ताे तेज बहाव में बह गए. लाेगाें का शाेर सुनकर एसडीआरएफ का जवान दाैड़कर घाट पर पहुंचा. बुजुर्ग काे नदी की धारा में बहते देख एसडीआरएफ के जवान ने भी दाैड़ लगा दी. करीब आधा किलाेमीटर पीछा करने के बाद बुजुर्ग काे हाथ पकड़कर बाहर खींच लिया, जिससे बुजुर्ग की जान बच गई.

साेमवार काे सवान साेमवार था, इसलिए प्रयागराज के घाट पर श्रद्धालुओं की भीड़ जमा थी. ऐसे में एसडीआरएफ के जवान भी पूरी तरह मुस्तैद थे. अंबेडकर नगर से आए बुजुर्ग काैशल्या प्रसाद भी गंगा स्नान की इच्छा लेकर प्रयागराज पहुंचे थे. वह गंगा में स्नान करने उतरे थे, इसी दाैरान बहाव अचानक तेज हाे गया. काैशल्या प्रसाद ने बहुत काेशिश की लेकिन बहाव में बहने से खुद काे बचा नहीं सके.

जब लाेगाें ने बुजुर्ग काे नदी में बहते देखा ताे शाेर मचाया. हंगामा हाेता देख एसडीआरएफ के जवान भी माैके पर पहुंच गए. बुजुर्ग काे नदी में बहते देख एसडीआरएफ के जवानाें ने पीछा करना शुरू किया. करीब आधा किलाेमीटर तक पीछा करने के बाद आखिर एसडीआरएफ के जवान बुजुर्ग तक पहुंचने में कामयाब हाे गए.

जवानाें ने बुजुर्ग की बांह पकड़कर उसे बाहर खींच लिया. जिससे उनकी जान बच गई. जुग-जुग जियाे बेटाः काैशल्या प्रसाद काे जब जवानाें ने बाहर निकाला ताे पहले ताे कुछ समझ ही नहीं आया.जब हाेश में आए ताे जवानाें का आभार जताते हुए कहा कि जुग-जुग जियाे बेटा।