एससी-एसटी ऐक्ट: सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों से 3 दिन में मांगा लिखित जवाब

शेयर करें:

एससी-एसटी एक्ट के 20 मार्च के सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले पर फिलहाल रोक नहीं है, केंद्र द्वारा दाखिल केंद्र की पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई हुई, जहां उच्चतम न्यायालय ने सभी पक्षों से तीन दिनों के अंदर लिखित जवाब देने को कहा है। मामले की अगली सुनवाई अगले 10 दिनों में होगी। उच्चतम न्यायालय ने कहा वह एक्ट के खिलाफ नहीं है लेकिन निर्दोषों को सजा नहीं मिलनी चाहिए।

एससी-एसटी ऐक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के हालिया फैसले के संदर्भ में केंद्र सरकार की पुनर्विचार याचिका पर सुप्रीम कोर्ट के ओपन कोर्ट में आज सुनवाई हुई। एससी-एसटी एक्ट के 20 मार्च के सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले पर फिलहाल रोक नहीं है, और कोर्ट ने सभी पक्षों से तीन दिनों के अंदर लिखित जवाब देने को कहा है, 10 दिनों के बाद अगली सुनवाई होगी।

मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह ऐक्ट के खिलाफ नहीं है लेकिन निर्दोषों को सजा नहीं मिलनी चाहिए। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि जो लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं उन्होंने हमारा जजमेंट पढ़ा भी नहीं है। हमें उन निर्दोष लोगों की चिंता है जो जेलों में बंद हैं। फिलहाल इस मामले में सुनवाई चल रही है।