एससी-एसटी एक्ट: भारत बंद के दौरान ग्वालियर में रिवॉल्वर तान चलाई गोलियां

शेयर करें:

अनुसूचित जाति/जनजाति कानून में बदलाव के खिलाफ दलित संगठनों ने सोमवार को देशव्यापी बंद बुलाया है. बंद के दौरान देश के अलग-अलग हिस्सों में हिंसा की खबरें भी आईं जिनमें 7 लोगों की मौत भी हो गई है. विरोध प्रदर्शन करते हुए कई राज्यों में ट्रेन रोकी गईं और सड़कों पर जाम भी लगाया गया.

बंद का सबसे ज्यादा असर उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्यप्रदेश और राजस्थान में देखने को मिला. लेकिन इस बंद में एक ऐसी तस्वीर में सामने आई जिसमें पुलिस व्यवस्था पर गंभीर सवाल खड़े कर दिए हैं. मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक शख्स रिवॉल्वर से गोलियां दागता दिखा. बंद में दलित और गैर-दलित लोगों के बीच संघर्ष की खबरें भी सामने आई हैं.

रिवॉल्वर लहराते हुए इस शख्स के साथ जो लोग यहां मौजूद हैं वह गालियां देते हुए दूसरी तरफ के लोगों पर हमला करते दिख रहे हैं. दूसरे पक्ष के लोग गोलियों से बचने के लिए भाग खड़े होते हैं. हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि यह शख्स प्रदर्शनकारी है या फिर बंद के विरोध में हो रहे प्रदर्शन से जुड़ा हुआ है.

मध्य प्रदेश में अब तक 5 और राजस्थान में एक व्यक्ति की मौत हो गई है, जबकि राजस्थान के बाडमेर में हिंसक झड़प के दौरान 25 लोग घायल हुए हैं. यूपी में भी 35 लोग जख्मी हुए हैं जबकि एक की मौत हुई है. पूर्व मुख्यमंत्री और बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने हिंसा की निंदा की है, लेकिन उन्होंने एससी-एसटी एक्ट का समर्थन किया है. उन्होंने आरोप लगाया कि कुछ लोगों ने हिंसा भड़काई है. साथ ही यह मांग भी की जिन्होंने हिंसा फैलाई उनके खिलाफ एक्शन होना चाहिए.