राहुल गाँधी की एक झप्पी वाला एंटरटेनमेंट स्पीच

शेयर करें:

राहुल गांधी ने अपने भाषण में सरकार और प्रधानमंत्री मोदी पर कई गंभीर और चुभने वाले आरोप लगाए. ये माना गया कि काफी समय बाद राहुल गांधी अपने भाषण से प्रभाव छोड़ने में कामयाब रहे. ज्ञात हो कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा में अपने भाषण की समाप्‍ति इस तरीके से की. राहुल ने कहा कि आप लोगों के भीतर मेरे लिए नफरत है.आप मुझे ‘पप्पू’ कह सकते हैं, गालियां देकर बुला सकते हैं, लेकिन मेरे अंदर आपके लिए नफरत नहीं है.इसके बाद राहुल गांधी चलकर प्रधानमंत्री के पास गए और उन्हें गले लगाया.

राहुल गांधी के इस अप्रत्‍याशित अंदाज पर स्‍पीकर समेत मोदी सरकार के कई मंत्री और बीजेपी पार्टी के कई नेताओं ने प्रतिक्रिया दी है, जहां कुछ नेताओं ने इसे गैर जरूरी बताया है वहीं कुछ नेताओं ने इस अंदाज की तारीफ की है.

लोग उन्‍हें उनके भाषण की जगह गले मिलने की बात को लेकर याद करेंगे. अविश्‍वास प्रस्‍ताव के समर्थन में बोलने के बाद राहुल गांधी सदन में पीएम मोदी की सीट पर जाकर उनसे गले मिले. इस पर लोकसभा की स्‍पीकर ने आपत्त‍ि जाहिर की. लोकसभा स्‍पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि राहुल गांधी का यह व्‍यवहार अप्रत्‍याशित था. मुझे यह ठीक नहीं लगा. महाजन ने कहा कि यह समझ लीजिए कि सदन की गरिमा हमें ही रखनी है, कोई बाहर का आकर नहीं रखेगा. हमें संसद सदस्यों के रूप में अपनी गरिमा भी रखनी है. मैं चाहती हूं कि आप सब लोग प्रेम से रहो.मेरे दुश्मन नहीं हैं राहुल (गांधी) जी.बेटे जैसे ही लगते हैं.”

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी के इस व्‍यवहार पर जमकर चुटकी ली. राजनाथ सिंह ने कहा कि राहुल गांधी ने ऐसा कर लोकसभा में ‘चिपको आंदोलन’ की शुरुआत की है.

केंद्रीय न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री विजय सांपला ने अपने ट्विटर एकाउंट पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाए जाने का मज़ाक उड़ाते हुए एक पोस्ट किया. केंद्रीय न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री विजय सांपला ने अपने ट्विटर एकाउंट पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले लगाए जाने का मज़ाक उड़ाते हुए एक पोस्ट किया है – “जबदस्ती गले पड़ना सुना होगा… देखा है कभी…?”

कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने राहुल गांधी द्वारा पीएम मोदी को गले लगाए जाने वाले व्‍यवहार पर कहा कि ”निश्छल प्रेम की ‘जादू की एक झप्पी’ नफरत की आंधी को कैसे रोक सकती है, यह राहुल गांधी जी ने दिखाया. आखिर राहुल जी ने कांग्रेस की मोहब्बत का आईना मोदी जी को दिखा ही दिया.”

चंडीगढ़ से BJP सांसद किरण खेर ने कहा कि राहुल गांधी को शर्म आनी चाहिए.वह हमारे मंत्रियों को बिना किसी सबूत के निशाना नहीं बना सकते.वह सदन में ड्रामा कर रहे थे, और मोदी जी को गले लगा रहे थे.मुझे लगता है, उनका कदम बॉलीवुड होगा.हमें उन्हें वहां भेजना ही होगा.

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने कहा, “आम लोगों में मोदी सरकार को लेकर जो गुस्सा है, वह राहुल की स्पीच में दिखा.PM को गले लगाकर राहुल ने यह संदेश भी दिया कि उनका हमला किसी व्यक्ति के खिलाफ नहीं था, उनके आरोप व्यक्तिगत नहीं थे.वहीं BJD नेता कलिकेश सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के व्‍यवहार और उनके भाषण पर कहा कि राहुल कॉन्फिडेंट और एग्रेसिव दिखे.उन्होंने मोदी जी से स्पीच देना सीख लिया है.पहली बार देखा कि किसी ने हाउस में किसी को गले लगाया हो.