सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की सुधरेगी हालत

शेयर करें:

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि सरकार जल्द ही स्वतंत्र संपत्ति प्रबंधन कंपनी और संचालन समिति का गठन करेगी साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार ने सुनील मेहता पैनल की पांच-स्तरीय योजना को स्वीकार कर लिया है

केन्द्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की गैरनिष्पादित परिसंपत्तियों के समाधान के लिए स्वतंत्र संपत्ति प्रबंधन कंपनी और संचालन समिति का गठन किया जाएगा। दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार ने सुनील मेहता-पैनल की पांच-स्तरीय योजना को स्वीकार कर लिया है। पीएनबी के गैर-कार्यकारी अध्यक्ष सुनील मेहता की अध्यक्षता में पैनल ने 500 करोड़ रुपये से अधिक के एनपीए मामलों से निपटने के लिए एक परिसंपत्ति प्रबंधन कंपनी और वैकल्पिक निवेश निधि की सिफारिश की है।

समिति ने निष्पादित और गैर-निष्पादित दोनों संपत्तियों के लिए एक परिसंपत्ति व्यापार मंच का भी सुझाव दिया है। वित्त मंत्री ने कहा कि समिति ने राज्यों के अपने बैंकों के बढ़ते एनपीए से निपटने के लिए बेड बैंक स्थापित करने की सिफारिश नहीं की है।