फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रॉन के साथ प्रधान मंत्री मोदी ने वाराणसी में गंगा घाट पर की बोटिंग

शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे फ्रांस के राष्ट्रपति इमैन्युअल मैक्रों ने भारतीय पीएम के साथ सोमवार को कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। राष्ट्रपति मैक्रों और मोदी ने वाराणसी से सटे मीरजापुर जिले में बने यूपी के सबसे बड़े सोलर प्लांट का उद्घाटन किया।

वाराणसी में मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति ऐतिहासिक नदेसर पैलेस भी जाएंगे और सोने की थाली में दोपहर का भोजन करेंगे। इस तरह दोनों पर बनारसी रंग चढ़ता भी दिखेगा। देश के इस सांस्कृतिक शहर वाराणसी में मैक्रों ने सोलर प्लांट के उद्घाटन से लेकर गंगा नदी में नौका विहार तक का आनंद लिया। मैक्रों की इस यात्रा को दोनों देशों के बीच मजबूत होते संबंधों के रूप में देखा जा रहा है।

1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैन्युअल मैक्रों के साथ मिलकर यूपी के मीरजापुर में 100 मेगावॉट क्षमता के सोलर पावर प्लांट का लोकार्पण किया। 155 हेक्टेयर में फैला यह यूपी का सबसे बड़ा सोलर पावर प्लांट है। इस सोलर पावर प्लांट में करीब 1 लाख 19 हजार सोलर पैनल लगे हैं।

2- दोनों नेता बड़ा लालपुर स्थित हस्तकला संकुल गए और वहां शहनाई वादन से उनका स्वागत किया गया। उन्होंने यहां पर कलाकृतियों के साथ नाटक का मंचन भी देखा।

3- पीएम मोदी और मैक्रों यहां से अस्सी घाट पहुंचे और बजड़े पर बैठकर गंगा नदी के किनारे बने विश्व प्रसिद्ध घाटों के सौंदर्य को निहारा।

4- घाटों पर भारतीय संस्कृति की अद्भुत झलक देखने को मिली। घाटों पर होने वाले कार्यक्रमों से मैक्रों ने वाराणसी की धार्मिक-सांस्कृतिक विरासत और अध्यात्म को नजदीक से जाना।

५- केदार घाट पर श्रीकृष्ण-राधा संग गोपियां मयूर बनकर नृत्य करती दिखीं तो अस्सी घाट पर वैदिक ऋचाएं, मानसरोवर घाट पर कबीर के पद जबकि तुलसी घाट पर श्रीरामचरित मानस की चौपाइयां गूंजीं।

6- तुलसीघाट पर बालिकाओं ने कुश्ती कला के धोबियापाट और पट दांव की कला भी दिखाई। इसके अलावा सधुक्कड़ी परंपरा वाले सौ से ज्यादा संतों-महात्माओं की अड़ी भी मैक्रों को देखने को मिली।

7- फ्रांस के राष्ट्रपति कभी काशी स्टेट की नदेसरी कोठी रहे ऐतिहासिक नदेसर पैलेस में पीएम मोदी संग लंच करेंगे।

8- नदेसर पैलेस पहुंचने पर पीएम मोदी और फ्रांस के राष्ट्रपति के कदम रेड कारपेट पर पड़ेंगे। पैलेस के हॉल में दोनों नेता आकर्षक टेबल पर सोने की थाली में राजशाही अंदाज में लंच करेंगे। भोजन सात्विक होगा और सिर्फ बनारसी व्यंजन ही परोसे जाएंगे।

9- बनारस की सड़कों पर ग्रैंड वेलकम के बाद नदेसर पैलेस में लंच और कुछ देर ठहरने के बाद इमैन्युएल मैक्रों शाम 5 बजे दिल्ली लौट जाएंगे।