राष्ट्रपति ट्रंप ने बदली एच1-बी वीज़ा प्रक्रिया

शेयर करें:

अमेरिका में एच1-बी वीज़ा प्रक्रिया के लिए लॉटरी प्रक्रिया शुरू हो गई है। इस प्रक्रिया में ग़ैर-अमेरिकी तकनीक पेशेवर हाशिए पर पहुंच जाएंगे। अब कम्प्यूटर प्रोग्रामर विशेषज्ञ नहीं माने जाएंगे।

अमेरिकी कामगारों के ख़िलाफ़ भेदभाव करने पर नियोक्ताओं को भी चेताया गया है। भारतीय तकनीक पेशेवर सबसे बड़ी संख्या में लेते हैं एच1-बी वीज़ा। ये नए कदम खासकर कंपनियों द्वारा विदेशी प्रोफेशनल्स को अस्थाई तौर पर नौकरी देने से रोकेंगे।