प्रतापगढ़ : आखिर क्या है डेरवा चौकी इन्चार्ज ‘राम अधार यादव’ का अपराधियों से कनेक्शन!

शेयर करें:

डेरवा (प्रतापगढ़)। डेरवा चौकी इन्चार्ज राम अधार यादव का अपराधियों से क्या कनेक्शन है की फरियादी सजा पाता है और आरोपी मजा करता है। अभी कुछ दिनों पहले एक पत्रकार पर डेरवा पेट्रोल पम्प पर हमला किया था तो राम आधार यादव ने उस आरोपी को बाइज्जत थाने से बिदा कर दिया और उल्टा पत्रकार से गाली गल्लौज करके उस पर फर्जी मुकदमा लिखने की धमकी दे डाला था। इसी कड़ी में उनका ये आज दूसरा मामला आया है जो राम गढ़ बिकरा का है जहाँ एक शिव मन्दिर से घंन्टा चोरी हो गया था और घंन्टा चोर एक दुकान दार निकला।

ग्रामीणों ने उसके हाथ से बरामद किये घंटा के साथ उस घन्टा चोर को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर देते है। मौके पर पहुंचे डेरवा चौकी इन्चार्ज राम अधार यादव ने चोरी का घंन्टा व चोर को थाने ले गए वहां से उसे छोड़ दिये। मामला जेठवारा थाना क्षेत्र के डेरवा पुलिस चौकी का है राम अधार यादव यहाँ के इन्चार्ज है, पर कितना भी संगीन जुर्म क्यों न हो ये एसआई राम अधार यादव उस आरोपी पर मेहरबान रहते है।

एसआई राम अधार यादव के घूसखोरी की इस हरकत से वहां की जनता अच्छी तरह परिचत है, सवाल ये उठता है की उनपर कार्यवाही करेगा कौन…? कहीं उनकी इस मेहरबानी तार उनके बड़े अधिकारी तक तो जुड़े नहीं है….? जो बेख़ौफ़ होकर इलाके में अपराध करवाते है और आरोपी पर कार्यवाही के बजाय उसे छोड़ दिया जाता है।

पुलिस में कुछ पुलिस वाले है जिन्होंने पूरे पुलिस डिपार्टमेंट को बदनाम कर रखा है उन्ही में से एक है डेरवा चौकी इन्चार्ज एसआई राम अधार यादव। लॉ एंड ऑर्डर की जिम्मेदारी पुलिस वालों पर होती है…लेकिन जब पुलिस चंद पैसों के लिए अपने ईमान को बेच दें तो क्या कहेंगे…कैसे होगा लॉ एंड ऑर्डर दुरुस्त।