प्रतापगढ़: 9 जुलाई को आपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत केन्द्रों का होगा लोकार्पण

शेयर करें:

प्रतापगढ़। जिलाधिकारी शम्भु कुमार एवं मुख्य विकास अधिकारी राजकमल यादव द्वारा आज से प्रारम्भ हो रहे संचारी रोग नियंत्रण माह की शुरूआत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र सुखपालनगर में की। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि कोई भी बुखार दिमागी बुखार (नौकी बीमारी) हो सकता है। दिमागी बुखार जानलेवा हो सकता है और रोग के उपरान्त शारीरिक एवं मानसिक विकलांगता भी ला सकता है। इस बीमारी से सबसे ज्यादा प्रभावित होने का खतरा हमारे प्रदेश के 1 से 15 वर्ष के बच्चो को है। इस बुखार के रोकथाम हेतु संचारी रोग नियंत्रण माह अभियान 02 जुलाई से प्रारम्भ होकर 31 जुलाई तक चलेगा।

इस अभियान को सफल बनाने के लिये सबसे महत्वपूर्ण जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग को दी गयी है। स्वास्थ्य विभाग की यह जिम्मेदारी है कि किसी ग्रामसभा में यदि बुखार से पीड़ित व्यक्तियों की संख्या अधिक हो तो वहां पर कैम्प लगाकर लोगों का ईलाज किया जाये और गांव में क्लोरीन की टैबलेट का वितरण कर दिया जाये और उसके प्रयोग करने की जानकारी भी दी जाये।

स्वास्थ्य विभाग के साथ बेसिक शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी भी महत्वपूर्ण है। बेसिक शिक्षा के प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय के छात्र/छात्राओं को पठन-पाठन के साथ ही इस दिमागी बुखार से बचाव के तरीको को प्रतिदिन इसके सम्बन्ध में जानकारी अनिवार्य रूप से दी जाये। पंचायती राज विभाग द्वारा नाले की साफ-सफाई, गांव के अन्दर पानी न इकट्ठा हो इसका विशेष ध्यान दिया जाये।

उन्होने कहा कि जुलाई माह बारिश का मौसम होने के कारण घर के आस-पास पानी इकट्ठा हो जाता है जिससे अनेक प्रकार के कीटाणु एवं मच्छर उत्पन्न होते है और विभिन्न प्रकार की बीमारियो को जन्म देते है इस बात का विशेष ध्यान दिया जाये कि घर के आस-पास पानी इकट्ठा न होने पाये और शौच के लिये हम शौचालय का ही प्रयोग करें और अपने आस-पास साफ-सफाई रखें और गांव के वातावरण को स्वच्छ रखें तथा लोगों को साफ-सफाई एवं स्वच्छता अपनाने के लिये प्रेरित करें। यदि गांव में कोई बच्चा बुखार से पीड़ित हो तो तत्काल उसको नजदीकी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर ले जाये। यह संचारी रोग नियंत्रण पूरे एक महीने तक चलाया जायेगा।

इस अभियान में जिस विभाग को जो भी जिम्मेदारी दी गयी है उसका वह अक्षरशः पालन करेगें क्योकि यह मा0 मुख्यमंत्री जी का प्राथमिकता वाला कार्यक्रम है, इस कार्य में लापरवाही पर सम्बन्धित के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही भी की जायेगी। उन्होने कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी की प्रमुख योजना आपरेशन कायाकल्प है जिसके अन्तर्गत जनपद के उच्च प्राथमिक स्कूल, प्राथमिक विद्यालय, आंगनबाड़ी केन्द्र, उप स्वास्थ्य केन्द्र का जीर्णोद्धार किया जाना है।

इस योजना के अन्तर्गत जनपद के 500 केन्द्रों का जीर्णोद्धार किया गया है जीर्णोद्धार के अन्तर्गत केन्द्र की साफ-सफाई, रंगाई-पुताई, इण्टरलाकिंग सड़क निर्माण आदि का कार्य किया गया है। इन केन्द्रों का 09 जुलाई को लोकार्पण किया भी जायेगा। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने वहां पर उपस्थित लोगों को संचारी रोग नियंत्रण की शपथ भी दिलायी। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी राजकमल यादव तथा मुख्य चिकित्साधिकारी अरविन्द कुमार श्रीवास्तव ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

जिला सूचना कार्यालय प्रतापगढ़ द्वारा प्रसारित
क्राइम ब्रान्च में तैनात दरोगा रामेन्द्र सिंह के आकस्मिक निधन पर s p आफिस में एक शोक शभा आयोजित की गई। जिसमें दो मिनट का मौन रख कर मिर्तक की आत्मा की शांति की कामना की गई।