एटीएम में डकैती की योजना बनाते प्रतापगढ़ जिले के 3 आरोपी सहित 5 शातिर बदमाश गिरफ्तार

शेयर करें:

जबलपुर। थाना अधारताल में 5- सितंबर की देर रात मेे विश्वसनीय मुखबिर से सूचना मिली कि एक सफेद रंग की स्विफ्ट कार क्रमांक एचआर 55 एजी 5111 रेल्वे ब्रिज रिछाई के नीचे मंदिर के पास खड़ी है जिसके अंदर बैठे लोग आपस में चर्चा कर रहे हैं कि कल रात में सुहागी कमानियागेट के पास के एटीएम में काम डाला था जो फेल हो गया किन्तु आज महाराजपुर वावली मंे लगा एसबीआई एटीएम तोड़कर लूटना है जो भी रूकावट पैदा करेगा उस पर अपने पास रखे हथियारों से हमला करना है।

सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुये वरिष्ठ अधिकारियेां के मार्ग दर्शन में योजनाबद्ध तरीके से टीमें बनाकर घेराबंदी कर रिछाई रेल्वे ओवर ब्रिज के नीचे मंदिर के पास दबिस दी गयी मंदिर की आड़ में बदमाशों की बातचीत को सुना गया तो कार के अंदर बैठे व्यक्ति आपस में चर्चा कर रहे थे कि आज रात में जब रोड सुनसान हो जाती है पुलिस इस एरिया को छोड़कर आगे की तरफ चली जायेगी तब रात में 3/ 3-30 बजे के बाद महाराजपुर वावली में एसबीआई का एटीएम तोड़कर डकैती डालना है उस एटीएम में अच्छा पैसा मिलेगा एटीएम को तोड़ते समय अगर कोई व्यक्ति आता है या पुलिस वाला आता है तो कम से कम तीन लोग बाहर रहकर आने वाले व्यक्ति को मारेगें और सभी लोग अपने अपने हथियारों का उपयोग करेगें।

लूट, नकबजनी, वाहन चोरी की घटनाओ पर अंकुश लगाने हेतु आदेश के परिपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर रोहित काशवानी (भा.पु.से.), अति. पुलिस अधीक्षक शहर उत्तर/यातायात संजय कुमार अग्रवाल एवं नगर पुलिस अधीक्षक आधारताल श्रीमति प्रियंका करचाम के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी अधारताल शैलेष मिश्रा के नेतृत्व में सम्पत्ति सम्बंधी अपराधियों की धरपकड़ हेतु लगायी गयी गठित टीम कें द्वारा महाराजपुर ए.टी.एम. में डकैती डालने की योजना बनाते हुये 5 शातिर बदमाशों को पकड़ा गया है।

ये है उप्र के प्रतापगढ़ जिले के लालगंज निवासी आरोपी
1-अर्जुन कुमार शुक्ला उम्र 35 वर्ष, निवासी लालगंज जिला प्रतापगढ़ उत्तरप्रदेश,
2-जित्तू उर्फ जितेन्द्र पाल उम्र 23 वर्ष निवासी लालगंज जिला प्रतापगढ़ उत्तरप्रदेश,
3-ललित पाल उम्र 20 वर्ष निवासी महेशगंज जिला प्रतापगढ़ उत्तरप्रदेश

4-संजय पटैल उर्फ विक्की पटैल उम्र 24 वर्ष निवासी पन्नी मोहल्ला सुहागी अधारताल, जिला जबलपुर
5-विकास उर्फ विक्की ठाकुर उम्र 20 वर्ष निवासी सुहागी अधारताल, जिला जबलपुर

जप्त हथियार
1 तलवार, 1 चायना चाकू, 1 कसईया चाकू, 1 बका, 6 एटीएम, 1 प्लास, 2 पेचकस, 1 सब्बल, 1 सूजा, 1 छेनी, 1 हथैाडी, 4 मोबाईल, एवं घटना में प्रयुक्त स्विफ्ट कार। आरोपियों द्वारा एक जगह शस्त्र लेकर डकैती डालने की योजना बनाते हुये समूह में मिलना डकैती के लिये तैयारी करना पाया जाने पर सभी आरोपियों के विरूद्ध धारा 399, 402 भादवि एंव 25 आर्म्स एक्ट के तहत कार्यवाही की गयी।

ऐसे करते थे वारदात को अंजाम
पूछताछ पर पकडे गये आरोपियेां ने बताया कि एटीएम के आसपास रहकर एैसे व्यक्ति की तलाश करते थे जो एटीएम मशीन के अंदर एटीएम को सही तरीके से हैंडिल नहीं कर पाता था, बार बार पैसे निकालने के लिये एटीएम को मशीन में डालता था, के पास जाकर मदद करने के बहाने एटीएम कार्ड बदलकर पैसे निकाल लेते थे, इसके साथ ही पकडे गये आरोपियो के पास एक यू आकर की चिमटी मिली है, जिसके सम्बंध मे पूछने पर बताये कि पास में रखे एटीएम कार्ड के एकाउंट में 10 हजार रूपये से अधिक का बैलेंस रखते थे एस.बी.आई. बैंक के एटीएम में कार्ड फंसा कर ट्रांजिक्सन के दौरान रुपये विड्राल होने के पहले जहाँ से पैसा निकलता है वहाँ पर पेंचकस एवं स्टील की यू आकार की साबड़ (स्टील की पतली चिमटी) फंसा देते है, जिस कारण ट्रांजक्शन की लिंक टूट जाती थी, जिससे एकाउंट से पैसे कटना शो नहीं होता था, तथा एकाउंट का मेन बैलेंस ज्यो का त्यों रहता था, रुपये चिमटी और पेचकश की सहायता से एटीएम से बाहर खींच लेते थे। प्रारम्भिक पूछताछ पर पकडे गये आरोपियेा ने उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ जिले मे उपरोक्त तरीके से घटना कारित करना स्वीकार किया है जिसके सम्बंध में सूचित किया जा रहा है

उल्लेखनीय भूमिका – डकैती डालने की योजना बनाते हुये आरोपियेां को पकड़ने में थाना प्रभारी अधारताल शैलेष मिश्रा के नेतृत्व में उप निरीक्षक अनिल कुमार, उप निरीक्षक भरत सिंह, सहायक उप निरीक्षक संतोष पाण्डे, सहायक उप निरीक्षक मनोज गोस्वामी, सहायक उप निरीक्षक मोहन तिवारी, प्रधान आरक्षक शुक्रभान, हितेन्द्र रावत, सुनील यादव, विश्वजीत गौतम, तेज सिंह, आरक्षक पवन तिवारी, मनीष ठाकुर, शशिकांत, आशीष, पुष्पेन्द्र, देवेन्द्र एवं पंकज की सराहनीय भूमिका रही।