प्रद्युम्न हत्याकांड: बस कंडक्टर अशोक को मिली ज़मानत

शेयर करें:

गुरुग्राम के प्रद्युम्न हत्या मामले में आरोपी बस कंडक्टर अशोक को लगभग ढाई महीने सलाखों के पीछे बिताने के बाद आखिरकार जमानत मिल गई. आरोपी बस कंडक्टर अशोक को 50 हजार रुपये के निजी मुचलके पर गुड़गांव कोर्ट ने जमानत दी

इससे पहले अदालत ने अशोक की जमानत के लिए मंगलवार तक के लिए फैसला सुरक्षित रख लिया था. 8 सितंबर को हुए इस जघन्य हत्याकांड में हरियाणा पुलिस ने कंडक्टर को आरोपी बनाया था लेकिन परिवार की सीबीआई जांच की मांग के बाद केस सीबीआई को सौंप दिया गया था.

सीबीआई के मुताबिक, प्रद्युम्न के स्कूल यानि भोंडसी के रायन इंटरनेशनल स्कूल के एक सीनियर छात्र ने प्रद्युम्न की हत्या को की वारदात को अंजाम दिया. छात्र ने परीक्षा और पीटीएम टलवाने के लिए प्रद्युम्न का गला रेत दिया.