राजनीतिक दल एससी-एसटी मुद्दे पर न करे राजनीति: केंद्र

शेयर करें:

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा एससी-एसटी अधिनियम पर सुप्रीम कोर्ट में केंद्र द्वारा दाखिल पुनर्विचार याचिका का मकसद अनुसूचित जाति-जनजाति समुदाय के लोगों को न्याय दिलाना। कानून मंत्री ने इस संवेदनशील मामले में राजनैतिक दलों से राजनीति ना करने की अपील की।

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि किसी सरकार ने एससी और एसटी समुदायों को इतने अवसर नहीं दिए, जितने भाजपा की अगुवाई वाली सरकार ने दिए है। डीडी न्यूज के साथ विशेष वार्ता में, केंद्रीय कानून मंत्री ने कहा कि लंबे समय तक बाबासाहेब के योगदान को ध्यान में नहीं रखा गया। बाबासाहेब के मृत्यु के 34 साल बाद 1 99 0 में उन्हें भारत रत्न से सम्मानित किया गया।

एससी और एसटी समुदायों को सरकार ने दिया है अवसरसरकार दलितों के अधिकारों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध: रविशंकरकेंद्रीय कानून मंत्री ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति से संबंधित लोगों को विभिन्न योजनाओं जैसे मुद्रा योजनाओं के माध्यम से उद्यमी बनाने की पहल सरकार ने की है।

इसके अलावा, केन्द्रीय कानून मंत्री ने इस मुद्दे पर राजनीति से बचने के लिए राजनीतिक दलों से आग्रह किया और अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के लोगों के कल्याण के लिए मिलकर काम करने के लिए राजनीतिक दलों से अपील की। उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने और देश भर में शांति बनाए रखने की भी अपील की। उन्होंने आश्वासन दिया कि सरकार दलितों के अधिकारों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध है।