मध्यप्रदेश में पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द ये है बजह

शेयर करें:

भोपाल :जिस तरह से पूरे देश के अलग -अलग राज्यों में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर कोहराम मचा हुआ उसी प्रदर्शन को देखते हुए मध्य प्रदेश पुलिस हाई अलर्ट पर है.इतना ही नहीं बुधवार 18 दिसम्बर से आगामी आदेश तक मध्य प्रदेश पुलिस के सभी पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं.

मध्य प्रदेश पुलिस की विशेष शाखा ने आदेश जारी करते हुए लिखा है कि ‘नागरिकता संशोधन अधिनियम-2019 के मद्देनजर प्रदेश में साम्प्रदायिक सौहार्द और कानून व्यवस्था को ध्यान में रखते हुए दिनांक 18/12/19 से आगामी आदेश तक समस्त पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों के अवकाश पर प्रतिबंध लगाया जाता है.

आदेश की कॉपी सभी जिलों के आला पुलिस अधिकारियों को भेजी गई है. अभी तक मध्य प्रदेश में कहीं भी नागरिकता संशोधन कानून को लेकर लॉ एंड आर्डर नहीं बिगड़ा है लेकिन छिटपुट प्रदर्शन हुए हैं.

एमपी पुलिस अलर्ट
साथ ही इसके अलावा इंटेलिजेंस से मिली जानकारी के आधार पर जिन जिलों में पुलिस को खास तौर से अलर्ट पर रहने को कहा गया है, उनमें उज्जैन, इंदौर, भोपाल, देवास, जबलपुर, खंडवा, बुरहानपुर, दमोह, सिवनी और अशोक नगर जिले शामिल हैं. इसके अलावा इन सभी जिलों में अतिरिक्त पुलिस बल को भेजकर तैयार रहने को कहा गया है.

वहीं जरूरत पड़ने पर पर अतिरिक्त सुरक्षाबल भी तैयार रखने को कहा गया है.बता दें कि डेढ़ महीने में ये दूसरी बार है जब मध्य प्रदेश पुलिस के पुलिसकर्मियों की छुट्टियों रद्द की गई है. इससे पहले नवंबर में अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले को ध्यान में रखते हुए मध्य प्रदेश पुलिस ने पूरे राज्य के पुलिसकर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी थीं.