बेटी के बयान पर पुलिस ने पिता के खिलाफ किया हत्या का प्रकरण दर्ज

शेयर करें:

जबलपुर@ पुलिस अंकल मेरे पापा और मम्मी के बीच अक्सर झगड़ा होता था। उस दिन हम सब साथ में सो रहे थे। अचानक मम्मी के चीखने की आवाज आई तो मेरी नींद खुल गई। मैंने देखा कि पापा मम्मी का गला दबाए हुए थे। मम्मी चिल्लाती रही, लेकिन पापा ने गला नहीं छोड़ा। इसके कुछ देर बाद मम्मी की आवाज आनी बंद हो गई। पांच साल की बेटी शिवि के बयान के आधार पर पुलिस ने पिता के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है।पुलिस ने बताया कि 2 अप्रैल को घुघरी निवासी निरंजन पटेल की पत्नी आभा पटेल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। निरंजन पटेल ने पुलिस को बताया कि उसकी पत्नी को हार्टअटैक आया था। जब वह पत्नी को अस्पताल लेकर पहुंचे तो उसकी मौत हो गई। पुलिस ने जब निरंजन पटेल की पांच वर्षीय बेटी के बयान लिए तो पूरे मामले से पर्दा हट गया।

पुलिस ने बताया कि घुघरी निवासी निरंजन पटेल की पत्नी अाभा मझगवां के पास सरकारी स्कूल में शिक्षिका थी। पति-पत्नी के बीच स्कूल की नौकरी छोड़ने को लेकर अक्सर विवाद होता रहता था। विवाद की वजह से कुछ समय से आभा स्कूल के पास ही गांव में रहने लगी थी। वह सप्ताह में एक दिन घर आती थी। इसकी वजह से भी उनमें झगड़ा होता रहता था।पुलिस ने बताया कि निरंजन पटेल ने योजना बनाकर 2 अप्रैल की सुबह 4.30 बजे आभा पटेल की गला घोंटकर हत्या कर दी। उसने पड़ोसियों को बताया कि उसकी पत्नी को हार्टअटैक आ गया। इसके बाद उसने 108 एम्बुलेन्स बुलाई और पत्नी को सिहोरा अस्पताल ले गया। प्रारंभिक जांच के बाद चिकित्सकों ने आभा पटेल को मृत घोषित कर दिया,पुलिस ने जब निरंजन पटेल की पांच वर्षीय बेटी शिवि के बयान लिए तो उसने बताया कि पापा ने ही मम्मी का गला दबाया था। इसके बाद पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला कि अाभा पटेल की मौत गला दबाने की वजह से हुई है। पुलिस ने इसके बाद आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया।