चोरी की एक्टीवा बेचने की फिराक में वाहन चोर को पुलिस ने दबोचा, 5 दुपहिया वाहन जप्त

शेयर करें:


जबलपुर। काईम ब्रांच एवं थाना ओमती की टीम को 1 शातिर वाहन चोर को गिरफ्तार कर चुराये हुये 5 दुपहिया वाहन कीमती लगभग 3 लाख रूपये जप्त करने मे महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई है। थाना प्रभारी ओमती एस.पी.एस. बघेल ने बताया कि 27 फरवरी की रात्रि में क्राईम ब्रांच को सूचना मिली कि चंदन वन के पास एक लड़का चोरी की एक्टीवा लिये बेचने की फिराक में खड़ा है, सूचना पर योजनाबद्ध तरीके से क्राईम बांच एवं थाना ओमती पुलिस द्वारा चंदन वन के पास दबिश दी गयी

जहाॅ मुखबिर के बतायेनुसार एक लडका मेहरून रंग की एक्टीवा मे बैठा हुआ दिखा जो पुलिस को देखकर भागने लगा जिसे घेराबंदी कर पकड़ा एवं नाम पता पूछा जिसने अपना नाम मोह. कासिम खान उम्र 27 वर्ष निवासी 16 क्वाटर हनुमानताल बताया, एक्टीवा के सम्बंध मे पूछताछ करने पर कोई कागजात पास में न होना बताया, थाने लगाकर सघन पूछताछ करने पर उक्त बिना नम्बर की मेहरून रंग की एक्टीवा को दिनाॅक 2-9-2020 को दूसरा पुल एसबीआई बैंक की पार्किंग से चोरी करना बताते हुये अक्टूबर 2020 मे एक सिल्वर रंग की एक्सिस संजीवनी अस्पताल के सामने से, एवं 1 एक्सिस 11 अगस्त 2020 को शांति नगर में जिम के बाजू से एवं एक ग्रे कलर की एक्टीवा अंजूमन स्कूल ग्राउंड से तथा एक सफेद रंग की एक्टीवा जनवरी 2020 में आदर्श स्कूल के सामने कुरैशी कम्पाउंड से चोरी करना स्वीकार करते हुये उपरोक्त चारेा चुराये हुये दुपहिया वाहनों को अपने घर के सामने खडी करके रखना बताया, आरोपी की निशादेही पर घर में सामने खडी चुराई हुई 2 एक्सिस एवं 2 एक्टीवा कुल जप्त किया गया।

दुसरे पुल के पास एसबीआई बैंक से चोरी की गयी मेहरून रंग की एक्टीवा की चोरी जाने की रिपोर्ट पर थाना ओमती में अपराध क्रमंाक 261/2020 धारा 379 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया था उक्त अपराध में आरोपी को विधिवत गिरफ्तार कर 41(1-4) जाफौ/379 भादवि के तहत कार्यवाही करते हुये अन्य दुपहिया वाहन के सम्बंध में सम्बंधित थाने को सूचित करते हुये वाहन मालिको की तलाश पतासाजी की जा रही है ।

सराहनीय भूमिका
शातिर वाहन चोर को गिरफ्तार कर चुराये हुये 5 दुपहिया वाहन कीमती 3 लाख रूपये के जप्त करने में क्राईम ब्रांच के सहायक उप निरीक्षक राजेश शुक्ला, प्रधान आरक्षक वीरेन्द्र सिंह, आरक्षक सादिक अली, अजय यादव, सुग्रीव तिवारी, ज्ञानेन्द्र पाठक, मुकेश परिहार एवं थाना ओमती के सहयक उप निरीक्षक सीताराम बकोड़े की सराहनीय भूमिका रही।