प्रधानमंत्री की जापान यात्रा: पीएम मोदी ने की जापान के पीएम शिंजो आबे से मुलाक़ात

शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का जापान में ख़ास स्वागत किया गया, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने हॉलिडे होम यामानाशी में पीएम मोदी से मुलाक़ात की। वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने रोबोटिक्स में जापान की बढ़ती तकनीक के मद्देनज़र रोबोट निर्माण केंद्र FANUC का दौरा किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी दो दिन की जापान यात्रा हैं। इस दौरान वे जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ वार्षिक दि्वपक्षीय शिखर बैठक में शिरकत करेंगे। दोनों नेताओं के बीच ये पांचवीं शिखर बैठक होगी और भारत-जापान के बीच 13वां वार्षिक सम्मेलन। जापान उन देशों में शामिल है जिनके साथ भारत द्विपक्षीय वार्ता करता है। अपनी यात्रा के पहले दिन प्रधानमंत्री मोदी ने जापान के शहर यामानाशी में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे से मुलाक़ात की। भारत और जापान के बीच विशेष रणनीतिक और वैश्विक भागीदारी के फ्रेमवर्क के तहत दोनों नेताओं ने क्षेत्रीय और अंतराष्ट्रीय मुद्दों पर आपसी हितों के मामलों पर चर्चा की।

यामानाशी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के हालिडे होम के रूप में जाना जाता है। ये शहर विश्व प्रसिद्ध माउंट फूजी की तलहटी में बसा है और ये राजधानी टोक्यो से तकरीबन 110 किमी. की दूरी पर स्थित है। जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने प्रधानमंत्री मोदी के सम्मान में यामानाशी में भोज भी देंगे। दोनों नेताओं के आपसी रिश्ते बेहद खास हैं.. साल 2017 में प्रधानमंत्री मोदी ने जापानी प्रधानमंत्री का स्वागत विशेष आत्मीय अंदाज़ में अपने गृह राज्य गुजरात में किया था। दोनों नेताओं ने वहां साबरमती आश्रम का भी दौरा किया था।

प्रधानमंत्री ने आज रोबोटिक्स तकनीक की कंपनी फानुक का दौरा किया। ये कंपनी 1956 से ही पूरी तरह से ऑटोमेशन पर काम कर रही है। फानुक तीन तरह की तकनीक सर्वो मैकेनिज्म,न्यूमेरिकल कंट्रोल और रोबोटिक्स तकनीक के लिए जानी जाती है। इसने जापान सहित दुनिया में विनिर्माण क्षेत्र में ऑटोमेशन को ख़ूब बढ़ावा दिया है। साथ ही काम करने की दक्षता और कुशलता बढ़ाने पर भी इसका ज़ोर रहता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी जापान यात्रा के दौरान जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे को भारतीय हस्तशिल्प के अनुपम तोहफे भेंट किए… प्रधानमंत्री ने खूबसूरत हस्तकला से निर्मित पत्थर की दो कटोरी और दरी भेंट की है। राजस्थान में पाए जाने वाले विशेष किस्म के गुलाबी और पीले चमकीले पत्थरों से बनी कटोरी को गुजरात के खंभात क्षेत्र के रहने वाले शब्बीर हुसैन इब्राहिम भाई शेख ने तैयार किया है। वहीं दरी को उत्तर प्रदेश स्थित मीर्जापुर के कारीगरों ने तैयार किया है। दरी और कटोरियों को अहमदाबाद स्थित राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान की देखरेख में तैयार किया गया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान की पारंपरिक कारीगरी से तैयार लकड़ी की एक संदूक भी प्रधानमंत्री शिंजो अबे को भेंट की।