सादा खाना खाने के शौक़ीन हैं पीएम नरेंद्र मोदी

शेयर करें:

पीएम नरेंद्र मोदी के बारे में सभी जानते हैं कि वो एक अच्छे वक्ता हैं. पूरे दिन ऊर्जा से सराबोर रहते हैं. इसके पीछे और कोई नहीं बल्कि उनकी बैलेंस्ड डाइट है. PM Modi खाने को लेकर बेहद फिक्रमंद हैं. अगर आप सोचते हैं कि ज्यादा रैली और भाषण देने के लिए वो बहुत ज्यादा खाते होंगे या फिर भरपूर मात्रा में जूस पीते होंगे तो ऐसा बिलकुल नहीं है.

चाहे वो रात में कितनी ही देर से क्यों न सोएं, सुबह 5 बजे जरूर उठ जाते हैं. एक घंटे योगासन करके खुद को फ्रेश रखते हैं. उन्‍हें शाकाहारी भोजन काफी पसंद है. गुजराती भाकरी और दाल खिचड़ी उनकी फेवरेट लिस्ट में है. वे हमेशा हल्‍का-फुल्‍का खाना पसंद करते हैं जैसे पोहा, इडली या डोसा. नवरात्रि के पूरे 9 दिनों का व्रत भी रखते हैं और दिन में केवल 1 फल खाते हैं.

पीएम मोदी दिन के भोजन में चावल , दाल, सब्जी और दही शामिल करते हैं. भाषण के दौरान वे हमेशा तेज आवाज और जोशीले दिखते हैं. इसके लिए वे अपने गले का विशेष ध्यान रखते हैं. गला ठीक रहे इसलिए वे हमेशा गुनगुना पानी पीते हैं.

देश-दुनिया का हालचाल लेना वो कभी मिस नहीं करते हैं. इसके लिए वे दुनियाभर कि खबरें और सोशल मीडिया से खुद को अपडेट करते हैं. उनसे जुड़े सूत्रों की मानें तो किसी यात्रा पर निकलने से पहले वे अपने साथ न्‍यूजपेपर ले जाना नहीं भूलते. पीएम मोदी की यह भी जानने की कोशिश रहती है कि उनके आलोचक उनके बारे में क्या सोचते हैं.

मोदी जितनी रैली करते हैं, इतनी एनर्जी के लिए क्या वो हैवी डाइट लेते होंगे?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जितनी रैली करते हैं, लोगों को लगता होगा कि वैसी एनर्जी के लिए वो डाइट भी काफी हैवी लेते होंगे. इसी को ध्यान में रखते हुए लखनऊ में हुई रैली में उनके लिए एयरपोर्ट के वीवीआईपी लाउंज में ड्राई फ्रूट्स, रोस्टेड काजू, बादाम, कचौड़ी और जूस की व्यवस्था की गई थी. लेकिन इनमें से किसी चीज को उन्होंने हाथ तक नहीं लगाया.

प्लेन से उतरने के बाद पीएम सीधे रैली स्थल गए. वहां भी जिला प्रशासन ने फ्रेश फ्रूट जूस व नींबू पानी का इंतजाम किया था, लेकिन मोदी ने करीब डेढ़ घंटे के प्रवास के दौरान सिर्फ दो बार हल्का गुनगुना पानी ही पिया. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो उन्होंने पहली बार रैली को संबोधित करते वक्त और दूसरी बार वहां से एयरपोर्ट रवाना होने से पहले सिर्फ पानी ही पिया.

सूत्रों की मानें तो पिछली यात्राओं के अनुभव के आधार पर पहले पीएम के लिए हल्का-फुल्का लंच उपलब्ध कराने की व्यवस्था थी, लेकिन 24 घंटे पहले पीएमओ ने जिला प्रशासन को बताया कि पीएम दिल्ली से भोजन करने के बाद ही लखनऊ जाएंगे.

इसके बाद प्रशासन ने आनन-फानन में एयरपोर्ट पर लेमन टी व कॉफी समेत पीएम की मनपसंद चीजों की व्यवस्था कराई ताकि रैली के बाद एयरपोर्ट पहुंचने पर इसे परोसा जा सके. जिला प्रशासन के मुताबिक पीएम ने लखनऊ प्रवास के दौरान सिर्फ गुनगुना पानी ही पीने की इच्छा जताई थी. इसके अलावा उन्होंने किसी अन्य खाद्य सामग्री या पेय पदार्थ का सेवन नहीं किया.