पीएम मोदी करेंगे ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन

शेयर करें:

बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने की दिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के पहले चरण का उद्घाटन करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में बुनियादी ढांचे को बढ़ावा देने के लिए दो एक्सप्रेस-वे का उद्घाटन करेंगे। ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का पहला चरण। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन से रोड़ शो की शुरूआत करेंगे।

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के पहले चरण की बात करें तोः

— दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के पहले चरण की लंबाई 9 किलोमीटर है और ये 14 लेन का है।
— दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का पहला चरण निजामुद्दीन ब्रिज से दिल्ली-यूपी बार्डर तक है।
— इस एक्सप्रेस-वे के पहले चरण में कुल 842 करोड़ रूपये की लागत आयी है।
— सड़क के दोनों तरफ साइकिल ट्रैक बनाया गया।
— 96 किलोमीटर लंबे एक्सप्रेस-वे का बचे हुए हिस्से के 2019–2020 तक बनकर तैयार होने की संभावना है।

वहीं ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे के महत्वपूर्ण बिंदुओ की बात करें तोः

— ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे रिकॉर्ड 500 दिन में बनकर तैयार हुआ है।
— 135 किलोमीटर ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे में कुल 11,000 करोड़ रूपये की लागत आई है।
— करीब 50,000 मालवाहक वाहन जो कि उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान जैसे पड़ोसी राज्यों में जाने के लिए दिल्ली से होकर गुजरते है, उनका मार्ग अब बदल जाएगा।
— विशेषज्ञों का मानना है कि इससे दिल्ली-एनसीआर में करीब 27 प्रतिशत प्रदूषण की कमी आएगी।
— सड़कों पर यातायात जाम से मिलेगी राहत।
— दिल्ली के कुंडली से हरियाणा के पलवल तक अब 4 घंटे के बजाए सिर्फ 72 मिनट जा सकेंगे लोग।

इन दोनों एक्सप्रेस-वे के उद्घाटन से जहां एनसीआर में बुनियादी ढांचे को बढ़ावा मिलेगा तो वहीं दिल्लीवासियों को जाम से राहत मिलेगी।