पीएम: फिन्टेक महोत्सव विश्वास का उत्सव

शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, भारत के 130 करोड़ लोगों के जीवन को बदलने वाले वित्तीय समावेषण का उत्सव है फिन्टेक महोत्सव। पीएम ने कहा, फिनटेक फेस्टिवल युवाओं की ऊर्जा में विश्वास और दुनिया को बेहतर बनाने के विश्वास का उत्सव है।

सिंगापुर की दो दिवसीय यात्रा पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज फिनटेक महोत्सव के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि फिनटेक फेस्टिवल विश्वास का उत्सव है। यह इन्नोवेशन में विश्वास, कल्पना शक्ति का, युवाओं की ऊर्जा में विश्वास का और दुनिया को बेहतर बनाने के विश्वास का उत्सव है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि डेस्कटॉप से लेकर क्लाउड तक, आईटी सेवाओं से लेकर इंटरनेट तक हम काफी कम समय में तकनीक के मामले में काफी आगे आ चुके हैं। तकनीक से इस नई दुनिया में प्रतियोगिता और पॉवर की परिभाषा में बदलाव आ रहा है और इससे लोगों के जीवन में बदलाव के कई अवसर पैदा हो रहे हैं।

सिंगापुर को वित्तीय सेवाओं का हब बताते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि साल 2014 में उनकी सरकार हर नागरिक के समावेषित विकास के मिशन से आई थी ताकि दूर-दराज के इलाके में रहने वाले नागरिक के भी जीवन में बदलाव लाया जा सके। वित्तीय समावेषण आज के वक्त में भारतीयों के लिए हकीकत बन चुका है।

प्रधानमंत्री ने वित्तीय संस्थानों के लिए ऑनलाइन ग्लोबल फिन टेक मार्केट प्लेस और प्लेटफार्म एपिक्स को भी लांच किया। फिनटेक और स्टार्टअप्स से निवेश की अपील करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत सबसे बेहतरीन डेस्टीनेशन है। उन्होंने कहा कि भारत अलग-अलग परिस्थितियों वाला और अलग चुनौतियों वाला देश है। हमारे सुझाव और हल भी अलग होने चाहिए।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का वक्त तकनीक का वक्त है औऱ तकनीक के चलते समाज में कई बड़े बदलाव आए हैं। डिजीटाइजेशन एक सफलता है क्योंकि हमारे पेमेंट प्रॉडक्ट्स हर किसी की जरूरत का ध्यान रखते हैं।