आईआईटी बॉम्बे के 56वें दीक्षांत समारोह को पीएम ने किया संबोधित

शेयर करें:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आईआईटी बॉम्बे के 56वें दीक्षांत समारोह को संबोधित किया। साथ ही पीएम ने छात्रों से अपने ज्ञान को नए भारत के निर्माण को समर्पित करने और अधिक से अधिक स्टार्ट-अप शुरू करने का आह्वान किया, वहीं प्रधानमंत्री ने आईआईटी छात्रों के उत्पादों की प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संस्थान में विभिन्न पाठ्यक्रमों के मेधावी छात्रों को डिग्री से सम्मानित किया । अनजु मितत्ल को प्रेसीडेंट ऑफ इंडिया गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया । इसके साथ ही तमाम छात्रों को पदकों से सम्मानित किया गया । प्रधानमंत्री ने 110 साल पहले शहीद हुए भारत मां के सपूत खुदी राम बोस के बलिदान को याद करते हुए अपने संबोधन की शुरूआत की । इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़े लोगों को सलाम किया ।

पीएम ने आईआईटी बॉम्बे की सरहाना करते हुए कहा कि पिछले कुछ वर्षों में आईआईटी बॉम्बे ने खुद को दुनिया के शीर्ष संस्थानों में स्थापित किया है। प्रधानमंत्री ने एक प्रदर्शनी का अवलोकन किया । इस प्रदर्शनी में आईआईटी के छात्रों द्वारा विकसित किये गये इनोवेटिव तकनीकी उत्पाद प्रदर्शित किये गये थे । प्रधानमंत्री ने छात्रों से बात कर उनके उत्पादों के बारे में जानकारी ली । प्रधानमंत्री ने युवाओं से अधिक से अधिक स्टार्ट-अप शुरू करने का आह्वान किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी नवाचार की सदी है और जो समाज नये अनुसंधान नहीं करेगा, वो पिछड़ जाएगा । प्रधानमंत्री ने उपस्थित छात्रों से भारत को इनोवेशन हब बनाने का आह्वान किया। दीक्षांत समारोह के बाद प्रधानमंत्री ने आइआइटी परिसर में ऊर्जा विज्ञान और इंजीनियरिंग के नए भवन और सेंटर फॉर एन्वॉयरनमेंटल साइंस एंड इंजीनियरिंग का उद्घाटन किया । आईआईटी बॉम्बे की स्थापना वर्ष 1958 में हुई थी । इस साल ये अपनी ‘हीरक जयंती’ मना रहा है ।