पिंक टॉयलेट के चलते अब महिलाओं को नहीं होना पड़ेगा शर्मिंदा

शेयर करें:

लखनऊ : सार्वजनिक स्थानों पर अब महिलाओं को टॉयलेट के लिए यहां वहां भटककर शर्मिंदा नहीं होना पड़ेगा | शहर का कोई भी एरिया हो महिलाओं के लिए प्रॉपर टायलेट की व्यवस्था नहीं दिखती | जहां सुलभ शौचालय है, वहां के हालात के महिलाओं के लिए मुनासिब नहीं दिखते | जिससे कई बार महिलाओं को असहजता का सामना करना पड़ता है लेकिन अब ऐसा नही होगा | क्योंकि हर इलाके में अब पिंक टायलेट की व्यवस्था की जाएगी | पिंक टायलेट को अब स्मार्ट सिटी योजना से जोड़ दिया गया है | जिसकी वजह से पिंक टायलेट के लिए बजट की कमी नहीं होगी |

लखनऊ में स्मार्ट सिटी के तहत जो एक्शन प्लान बनाया गया है, उसके तहत मार्केट एरिया और शहर के प्रमुख स्थानों पर महिलाओं के लिए 75 से 80 पिंक टायलेट बनाये जायेंगे, जिससे महिलाओं को सुविधा मिल सके | इतना ही नही महिलाओं को ये पता चल सके कि उनके वर्तमान स्थान से पिंक टायलेट कितनी दूरी पर है, इसके लिए जगह-जगह पर पिंक टायलेट संबंधी साइन बोर्ड भी लगाये जायेंगे | इसके साथ ही टायलेट की लोकेशन भी स्मार्ट सिटी एप से इंटीग्रेट की जायेगी | जिससे कोई भी महिला अपने मोबाईल फोन से भी जान सकेगी कि कितनी दूर और चलने के बाद टायलेट की सुविधा मिल सकती है |

पहले भी बनी योजना, पर बजट के अभाव में आगे न बढ़ी

हालांकि ऐसा नहीं है कि इससे पहले ऐसी योजना नहीं बनी | पिछले साल भी पिंक टायलेट को लेकर योजना बनाई गई लेकिन पैसे की कमी के कारण योजना परवान न चढ़ सकी | फिलहाल नगर निगम एक बार से पिंक टायलेट योजना को लेकर गंभीर दिख रहा है | इस योजना के पहले चरम में जमीनों के चिन्हीकरण का काम भी शुरू हो गया, जिसके तहत महिलाओं की आबादी आवश्यक्ता और महिलाओं की आमद को देखते हुए लोकेशन ट्रेस की जा रही है | जिसके बाद पिंक टायलेट का काम शुरू हो जायेगा |

उधर सरकार की इस पहल पर महिलाओं में खासा खुशी देखने को मिल रही है | महिलाएं इस पहल को अपने सम्मान से भी जोड़ कर देख रही हैं | कुछ लड़कियों ने बताया कि कई बार इमरजेंसी होने पर उन्हें असहज होना पड़ता था लेकिन पिंक टायलेट के होने से उन्हे परेशानियों का सामना नही करना पड़ेगा |