जाति प्रमाण-पत्र देने में विलम्ब पर अपर कलेक्टर पर जुर्माना

शेयर करें:

उज्जैन @ लोक सेवा गारंटी योजना के अन्तर्गत निर्धारित समय-सीमा 01 माह के अन्दर 19 आवेदकों को जाति प्रमाण-पत्र जारी न करने पर अपर संभागायुक्त डॉ.अशोक भार्गव ने अपर कलेक्टर आगर मालवा एनएस राजावत तथा तत्कालीन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं पदाभिहित अधिकारी उपखण्ड मंदसौर के विरूद्ध 4750 रूपये का जुर्माना अधिरोपित किया है। साथ ही निर्देश दिए हैं कि वे जुर्माने की राशि 01 सप्ताह के अन्तर्गत राशि शासकीय कोष में जमा करें, अन्यथा उनके आगामी वेतन से राशि वसूल की जाएगी।

अपर संभागायुक्त डॉ.अशोक भार्गव ने बताया कि अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा वर्ग के 19 आवेदकों द्वारा लोक सेवा गारंटी अधिनियम के अन्तर्गत जाति प्रमाण-पत्र के लिये एनएस राजावत तत्कालीन पदाभिहित अधिकारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व उपखण्ड मंदसौर को (वर्तमान में अपर कलेक्टर आगर-मालवा) आवेदन दिया था, परन्तु उनके द्वारा निर्धारित समय-सीमा 01 माह के अन्तर्गत उन आवेदनों का निराकरण नहीं किया गया। जब उन्हें कारण बताओ सूचना-पत्र दिया गया, तब उन्होंने इसका कारण अन्तिम दिनांक को इंटरनेट बन्द होना बताया। इस पर अपर संभागायुक्त द्वारा तल्ख टिप्पणी करते हुए अपने निर्णय में लिखा गया कि “अधिनियम के अन्तर्गत जाति प्रमाण-पत्र की सेवा प्रदाय करने में अन्तिम दिवस का इंतजार करने का कोई प्रावधान नहीं है।” यह मानसिकता अधिनियम की मंशा के विरूद्ध है तथा सम्बन्धित अधिकारी की लापरवाही तथा कर्तव्य के प्रति उदासीनता दर्शाती है।

प्रकरण में प्रथम अपीलीय अधिकारी कलेक्टर मंदसौर ने पदाभिहित अधिकारी राजावत को जाति प्रमाण-पत्र में विलम्ब के लिए दोषी बताया। प्रकरण में द्वितीय अपीलीय अधिकारी अपर आयुक्त उज्जैन संभाग ने त्वरित कार्रवाई करते हुए जुर्माना अधिरोपित किया है। जुर्माना 250 रूपये प्रतिदिन के मान से 01 दिन विलम्ब के लिये 19 आवेदकों का कुल 4750 रूपये है। अधिनियम के अन्तर्गत दोषी अधिकारी से राशि वसूल की जाकर राशि सम्बन्धित आवेदकों को दिए जाने का प्रावधान है। आवेदकों में अजा/जजा वर्ग के ममता मकवाना, अनोखीलाल, गोविन्दराम, किशोर चंदेल, लीलाबाई, ताराबाई तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के रामगोपाल, वैष्णवी सोलंकी, सोनू गुराड़िया, नरेन्द्रसिंह तोमर, मजरापाल सोड़ा, लोकेन्द्र लक्षकार, दीपक लक्षकार, गणेश कुमार, जरीनाबानो, पूजा करजुम, रजक शेमली, वैभव चावड़ा, उमेश प्रजापति हैं।