अवमानक स्तर का दूध पाये जाने पर जुर्माना

शेयर करें:

श्योपुर@ अपर कलेक्टर वीरेन्द्र कुमार सिंह द्वारा गणेश दूध डेयरी पाली रोड सलापुरा पर 1 लाख रूपये तथा शिव हेल्थ फूड एलएलपी ओम कोल्ड आईस फैक्टी इण्डस्ट्रीयल एरिया श्योपुर पर अवमानक स्तर का दूध पाये जाने पर 40 हजार रूपये का जुर्माना किया गया है। अपर कलेक्टर न्यायालय द्वारा पारित आदेश के अनुसार 13 मार्च 2015 को सलापुरा पाली रोड स्थित गणेश दूध डेयरी से दूध का सैम्पल लिया गया था। राज्य खाद्य प्रयोगशाला भोपाल को जांच के लिए भेजा गया। जिसमे मिल्क सॉलिड नॉट फैट 5.8 प्रतिशत पाया गया जो न्यूनतम 8.5 प्रतिशत निर्धारित है। इस आधार पर नमूने को अवमानक घोषित किया गया।

इस आधार पर फर्म पर 1 लाख का रूपये का जुर्माना किया गया है। इसी प्रकार शिव हेल्थ फूड पर भी 40 हजार रूपये का जुर्माना किया गया है। पारित आदेश के अनुसार उक्त फर्म से 28.6.2012 को दूध का नमूना लिया गया था। जिसमे भोपाल से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार मिल्क फैट 3 प्रतिशत पाया गया जो कि न्यूनतम 3.5 प्रतिशत होना चाहिए। मिल्क सॉलिड नॉट फैट 8.5 प्रतिशत की अपेक्षा 7.77 प्रतिशत पाया गया फर्म की ओर से नमूने के दूसरे भाग की जांच के लिए अपील की गई। खाद्य प्रयोगशाला मैसूर के द्वारा नमूने के दूसरे भाग की जांच मे नमूने को अवमानक घोषित किया गया। मिल्क सॉलिड नॉट फैट उक्त जाचं मे 8.5 प्रतिशत की अपेक्षा 9.2 प्रतिशत पाया गया। उक्त प्रयोगशाला के द्वारा नमूने के दूसरे भाग को केवल मिल्क फैट की मात्रा 3.4 प्रतिशत पाये जाने के आधार पर अवमानक घोषित किया गया है। मिल्क फैट की मात्रा निर्धारित मात्रा से 0.1 प्रतिशत कम पाई गई है। उक्त अंतर काफी कम है। लेकिन सैम्पल इस कारण अवमानक घोषित किया गया है। इस आधार पर उक्त फर्म के विरूद्ध 40 हजार रूपये का जुर्माना लगाया गया है।