प्रदेश के 18 जिलों में पंचायत चुनाव का प्रचार हुआ खत्म, मतदान 15 को

शेयर करें:


लखनऊ. पंचायत चुनाव में प्रथम चरण का प्रचार मंगलवार शाम पांच बजे खत्म हो गया. पहले चरण में प्रदेश के 18 जिलों में 15 अप्रैल को मतदान होगा. बुधवार की सुबह से पोलिंग पार्टियां रवाना की जाएंगी. पहले चरण में सहारनपुर, गाजियाबाद, रामपुर, बरेली, हाथरस, आगरा, कानपुर, झांसी, महोबा, प्रयागराज, रायबरेली, हरदोई, अयोध्या, श्रावस्ती, संतकबीरनगर, गोरखपुर, जौनपुर और भदोही में मतदान होना है.

इसके साथ ही गुरूवार 15 अप्रैल को होने वाले मतदान की तैयारियां तेजी से शुरू हो गयीं. प्रशासन ने इन सभी जिलों में मंगलवार की शाम प्रचार थमने के साथ ही शराब, बीयर व भांग की लाइसेंसी दुकानें भी बंद करवा दीं. अब यह दुकानें गुरूवार की शाम को मतदान खत्म होने के बाद खुलेंगी. इस बार कोरोना संक्रमण के कारण गांव की बाजारों में मुलाकात, चुनाव कार्यालयों पर कार्यकर्ताओं व समर्थकों की भीड़ तक चुनाव प्रचार सिमट कर रह गया. पुलिस-प्रशासन ने धारा 144 की वजह से इस बार उम्मीदवारों के वाहनों पर भी कड़ी नजर रखी. ज्यादा तादाद में पास भी जारी नहीं किये गये. इस वजह से उम्मीदवारों को गांवों में पैदल ही जनसम्पर्क करना पड़ा.

कोरोना संक्रमण से उपजी दहशहत और धारा 144 लागू होने की वजह से पुलिस-प्रशासन की सख्ती के चलते इस बार प्रदेश में पंचायत चुनाव का प्रचार परवान नहीं चढ़ पाया. न राजनीतिक दलों की चुनावी सभाएं हुईं न ही चुनाव निशान के साथ उम्मीदवारों के झण्डे, पोस्ट, बैनर के साथ बड़ी रैलियां निकल पाईं.