गाजीयाबाद: गुरुद्वारे में शुरू किया ‘ऑक्सीजन लंगर’

शेयर करें:


कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर से पूरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। दिल्ली-NCR क्षेत्र में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। इसके कारण अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन की किल्लत शुरू हो गई है और दर्जनों मरीजों की मौत भी हो चुकी है। इसी बीच इन सभी समस्याओं को देखते हुए गाजियाबाद के इंदिरापुरम स्थित गुरुद्वारा श्री गुरु सिंह सभा ने कोरोना मरीजों की मदद के लिए ‘ऑक्सीजन लंगर’ शुरू किया है।

ऑक्सीजन की कमी से लगातार हो रही मरीजों की मौत
देश में ऑक्सीजन की कमी से लगातार मरीजों की मौत हो रही है। गुरुवार को दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में 25 मरीजों की मौत हो गई थी। इसके बाद शुक्रवार रात राजधानी के जयपुर गोल्डन अस्पताल में भी 25 मरीजों की मौत हो गई और शनिवार को पंजाब के अमृतसर में एक निजी अस्पताल में छह मरीजों की मौत हो गई। इसी तरह दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन खत्म होने चेतावनी देते हुए मदद की गुहार लगाई है।

आने वाले लोगों को उपलब्ध कर रहे हैं ऑक्सीजन- रम्मी
इंडिया टुडे के अनुसार गुरुद्वारे के प्रबंधक गुरप्रीत सिंह रम्मी ने कहा, “हमने स्वयं के स्तर पर 25 ऑक्सीजन सिलेंडरों की व्यवस्था की है। इससे यहां आने वाले मरीजों को ऑक्सीजन मुहैया कराई जा रही है।” उन्होंने आगे कहा, “हम ऑक्सीजन सिलेंडर देने या भरने का काम नहीं कर रहे। लोगों से हम कह रहे हैं कि वह वाहन में अपने मरीज के साथ इंदिरापुरम गुरुद्वारे में आएं और हम उन्हें आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन उपलब्ध कराएंगे।”

परिसर के बाहर मरीज बैठकर करवा रहे इलाज
रम्मी ने कोरोना संक्रमित मरीजों को अस्पताल में बेड्स मिलने तक ऑक्सीजन उपलब्ध कराने का वादा किया है। जिसकी चलते गुरुद्वारा के बाहर लोगों की लंबी कतारें लगी हैं। कई लोग गुरुद्वारे के बाहर ही अपनी गाड़ी में बैठकर ऑक्सीजन ले रहे हैं।

जिला प्रशासन से की 25 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराने की अपील
रम्मी ने कहा, “वर्तमान में वह 25 ऑक्सीजन सिलेंडरों से मरीजों को ऑक्सीजन मुहैया कर रहा हैं। अब तक करीब 250 करोना मरीजों की जान बचाई जा चुकी है, लेकिन ये सिलेंडर 500 मरीजों के लिए पर्याप्त नहीं है।” उन्होंने आगे कहा, “मेरी गाजियाबाद के कलक्टर और सांसद वीके सिंह से अपील है कि आप हमें बैकअप के लिए 20-25 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध कराएं। इससे हम हम 1,000 कोरोना मरीजों की जिंदगी बचाएंगे।”

कुछ लोग पैसा कमाने के लिए कर रहे महामारी का उपयोग- रम्मी
रम्मी ने कहा कि महामारी की दूसरी लहर में हालाब बेहद खराब हो रहे हैं। ऑक्सीजन की कमी से मरीजों की मौत हो रही है। इसके बाद भी कुछ लोग इस महामारी का उपयोग पैसा कमाने के लिए कर रहे हैं। यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन लंगर की सेवाएं लेने के लिए मरीजों के परिजन पूर्व में भी आने का समय ले सकते हैं। इससे यहां पहुंचने के बाद मरीजों को इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

सिंगापुर से ऑक्सीजन मंगवा रही सरकार
बता दें कि केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन की किल्लत को देखते हुए सिंगापुर से हवाई मार्ग से ऑक्सीजन के चार टैंकर मंगवाए हैं। इन टैंकर्स को भारतीय वायुसेना के C-17 एयरक्राफ्ट से लाया जा रहा है। इनके पहुंचने के बाद देशभर में आपूर्ति की जाएगी।