हिस्ट्री शीटर शमीम कबाड़ी सहित 6 भू-माफियाओ से अतिक्रमण मुक्त हुई 15 एकड़ से अधिक की शासकीय भूमि

शेयर करें:

जबलपुर। माफियाओं के रसूख को नेस्तानाबूत करने चलाये जा रहे अभियान के तहत आज एक साथ छह स्थानों पर बड़ी कार्यवाही कर 25 करोड़ 46 लाख रुपये अनुमानित बाजार मूल्य की 15 एकड़ से अधिक शासकीय भूमि को अवैध कब्जे से मुक्त कराया गया।

सयुंक्त कलेक्टर एवं एसडीएम जबलपुर नमः शिवाय अरजरिया के मुताबिक कलेक्टर कर्मवीर शर्मा के नेतृत्व और पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के मार्गदर्शन में माफिया के विरुद्ध आज की गई कार्यवाहियों में जबलपुर शहर से लगे पनागर तहसील के ग्राम पिपरिया बनियाखेड़ा में रसूखदार वीरेंद्र पटेल के कब्जे से करीब 18 करोड़ 66 लाख रूपये बाजार मूल्य की 12 एकड़ शासकीय भूमि को भी मुक्त कराया गया है ।

उल्लेखनीय है कि स्कूल एवं मुख्य सड़क से लगी बेशकीमती भूमि पर पूर्व सरपंच वीरेन्द्र पटेल द्वारा 15 वर्षों से कब्जा कर खेती की जा रही थी, इसके पूर्व एक बार इस शासकीय भूमि का कब्जा मुक्त कराया गया था लेकिन वीरेन्द्र पटेल द्वारा दोबारा फैंसिंग कर कब्जा कर खेती की जा रही थी।

वीरेन्द्र पटेल पर इस शासकीय भूमि पर लगे वृक्ष काटने पर जुर्माना भी लगाया जा चुका है। पूर्व सरपंच वीरेन्द्र पटेल के भय के कारण गांव का कोई भी व्यक्ति इनके द्वारा शासकीय भूमि पर कब्जा कर इनके द्वारा खेती करने की शिकायत नहीं कर पाता था। पुलिस एवं प्रशासन द्वारा आज की गयी कार्यवाही से ग्रामीणों में हर्ष व्याप्त है।

जिला प्रशासन की अगुवाई में पुलिस और नगर निगम के सहयोग से की गई कार्यवाही के दौरान हिस्ट्री शीटर और निगरानी शुदा बदमाश मोहम्मद शमीम उर्फ शमीम कबाड़ी द्वारा खजरी में पत्नी संजीदा बी के नाम पर बनाये जा रहे आलीशान घर के अवैध हिस्से को जमीदोज करने के साथ-साथ उसके द्वारा नजदीकी ग्राम चांटी में बनाये गये गोदाम को भी जेसीबी मशीनों की सहायता से ध्वस्त कर दिया गया ।

हिस्ट्रीशीटर शमीम कबाड़ी के विरुद्ध थाना गोहलपुर, सिविल लाइन में धोखाधड़ी, मारपीट, तोड़-फोड़ तथा आर.पी.एफ. थाना जबलपुर एवं कटनी में रेल सम्पत्ति अवैध कब्जा अधिनियम के अपराध पंजीबद्ध हैं। शमीम द्वारा अवैध कब्जा कर निर्मित हवेलीनुमा मकान का 1700 वर्गफुट का हिस्सा एवं किलेनुमा शक्ल में निर्मित गोदाम का 800 वर्गफुट का अवैध हिस्सा जमींदोज किया गया। इसका अनुमानित बाजार मूल्य 74 लाख रूपये है।

जिला प्रशासन ने एक अन्य कार्यवाही में ग्राम पिपरिया बनियाखेड़ी निवासी मोहनलाल पटेल द्वारा शासन की करीब दो करोड़ पांच लाख रूपये बाजार मूल्य की तीन एकड़ जमीन पर कब्जा कर अवैध रूप से गोदाम व दुकानों के निर्माण को जमींदोज किया गया।

इसी प्रकार खजरी में अबरार कबाड़ी के द्वारा शासन की चरनोई भूमि के 6 हजार वर्गफुट पर अवैध कब्जा कर गोदाम का निर्माण कराया गया था। साथ ही संबंधित द्वारा इसका व्यवसायिक उपयोग भी किया जा रहा था। प्रशासन ने इस निर्माण को ध्वस्त कर करीब तीन करोड़ 40 लाख रूपये बाजार मूल्य की जमीन को कब्जा मुक्त कराया है।

इसी प्रकार पिपरिरया बनियाखेड़ा में 1500 वर्गफुट शासकीय भूमि पर प्रेमलाल द्वारा अवैध कब्जा कर दुकानों का निर्माण कराया गया था। आज की गई कार्यवाही में करीब 60 लाख रूपये बाजार मूल्य की जमीन को मुक्त कराने अतिक्रमण ढहाये गये।

राज्य शासन के निर्देश पर भू-मफिया, राशन की काला बाजारी, मिलावटखोरों, भू-माफियाओं, चिटफंड कंपनी के कारोबारियों एवं सूदखोरों के विरूद्ध पुलिस एवं जिला प्रशासन तथा नगर निगम की संयुक्त टीम के द्वारा माफियाओं की लिस्ट एवं उनके द्वारा किये गये अवैध निर्माण एवं कब्जे की जानकारी तैयार की गई है और लगातार कार्यवाही की जा रही है।