प्रयागराज के चौकी इंचार्ज की डेंगू से मौत, लखनऊ के मेदांता अस्पताल में चल रहा था इलाज

शेयर करें:

 

प्रयागराज. प्रयागराज में डेंगू का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है. चौकी इंचार्ज शिखर उपाध्याय की डेंगू से मौत की खबर है. लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में उनका इलाज चल रहा था. दरोगा की मौत से जिले के पुलिस कर्मियों में शोक है.

जिले में डेंगू से पहली मौत
सिविल लाइन इलाके के हनुमान मंदिर चौकी इंचार्ज शिखर उपाध्याय की डेंगू से मौत हुई है. डेंगू से मौत का यह जिले में पहला मामला है. दरोगा शिखर उपाध्याय को इलाज के लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था.

डेंगू का डी-2 स्ट्रेन
स्वास्थ्य विभाग के अनुसार डेंगू के डी-2 स्ट्रेन के कारण खतरा बढ़ गया है. सीरो टाइप 2 के कारण संक्र मण ज्यादा तेजी से और घातक हो रहा है. एडीशनल सीएमओ सत्येन राय का कहना है कि हर साल इस सीजन में बीमार बच्चों की संख्या बढ़ती है. इसलिए अस्पतालों को निर्देश दिया गया है कि किसी भी बीमार बच्चे को वापस न भेजा जाए.

लगातार मिल रहे हैं मरीज
जिले में डेंगू का प्रकोप लगातार जारी है. शहरी क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग के सर्वे में डेंगू के साठ मरीज मिले हैं. ग्रामीण क्षेत्र में डेंगू के मरीजों की संख्या 27 है. 14 मरीजों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.