पाकिस्‍तानः नवजोत सिंह सिद्धू का कमर बाजवा से गले मिलने पर भारत में हुआ विरोध

शेयर करें:

अमरिंदर ने कहा हर रोज हमारे जवान शहीद हो रहे हैं, सिद्धू का वाजवा से गले मिलना ठीक नहीं मालूम हो कि सिद्धू कगा भारत में जमकर विरोध हो रहा है। जहां एक तरफ बीजेपी ने सिद्धू को घेरा वहीं पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने भी सिद्धू के विरोध में बयान दिया है। कैप्टन ने कहा कि गले मिलना ठीक नहीं है।सिद्धू को ऐसा नहीं करना चाहिए ।

अमरिंदर ने कहा हर रोज हमारे जवान शहीद हो रहे हैं।ऐसे में मैं उनके सेना प्रमुख जनरल बाजवा को गले लगाने के खिलाफ हूं। सच यह है कि सिद्धू समझना चाहिए था कि हर रोज हमारे जवान मारे जा रहे हैं। कुछ महीने पहले मेरी रेजिमेंट के एक मेजर और दो जवान शहीद हुए थे।

हर रोज कोई ना जवान शहीद हो रहे है। जिसने बंदूक चलाने का आदेश दिया वे ही इसके दोषी हैं।और आदेश देने वाले जनरल बाजवा हैं। उन्होंने कहा कि अगर सिद्धू यह कहें कि मैं जनरल बाजवा को नहीं जानता, तो उनकी यूनिफॉर्म पर लिखा था।पाकिस्‍तान सेना प्रमुख के खिलाफ प्‍यार दिखाना गलत है।

आपको बता दें कि सिद्धू ने बाजवा को गले लगाने पर सफाई देते हुए कहा कि अगर कोई मेरे पास आए और कहे कि हम एक ही संस्कृति से ताल्‍लुक रखते हैं और हम गुरु नानकदेव के 550वें प्रकाश पर्व पर करतारपुर सीमा को खोलेंगे। तब मैं क्‍या करता..?

आपको मेहमान के रूप में बुलाया जाता है तो जहां बैठने को कहा जाता है आप वहीं पर बैठते हैं-सिद्धू
गौरतलब है कि सिद्धू ने पाकिस्‍तान अधिकृत कश्‍मीर के प्रेसिडेंट के पास बैठने पर बचाव किया कहा आपको मेहमान के रूप में बुलाया जाता है तो जहां बैठने को कहा जाता है आप वहीं पर बैठते हैं। बीजेपी के प्रवक्ता संवित पा्रा ने सिद्धू को एक ट्वाट में कहा है कि पाकिस्तान नें मौत और आतंकवाद के अलावा ऐसा क्या दे दिया जो वह पाक का धन्यवाद करते हैं।

सिद्धू ने कहा कि मैं कहीं और बैठा था लेकिन मुझे पीओके के प्रेसिडेंट मसूद खान के पास बैठने को कहा गया था। सिद्धू को बीजेपी और अकाली दल माफी मांगने के लिए कह रहे हैं। पंजाब बीजेपी के अध्‍यक्ष श्‍वेत मलिक ने सिद्धू की पाकिस्‍तान यात्रा को शर्मनाक करार दिया। अध्यक्ष ने कहा कि वह अवरवादी हैं, उन्होंने देश की गरिमा को दांव पर लगाया है।