Skip to content

रॉयल्टी जमा ना करने पर कलेक्टर ने वसूली के जारी किये आदेश

इस ख़बर को शेयर करें:

कटनी @ चूना पत्थर की रॉयल्टी की राशि जमा ना किये जाने के एक प्रकरण में कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने वसूली के आदेश जारी किये है। आदेश के तहत रॉयल्टी की राशि जमा ना करने पर व्ही.एस. मिनरल्स से ग्यारह लाख एक हजार तीन सौ तीन रुपये की वसूली की जानी है। पूरे मामले के अनुसार खनिज अधिकारी द्वारा 16 अप्रैल 2009 को व्ही.एस. मिनरल्स हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी कटनी के द्वारा जिले की रेल्वे की साईट्स से रेल्वे वैगनों के माध्यम से जिले के बाहर भेजे गये खनिज पर सप्लायरों के विरुद्व खान एवं खनिज (विकास एवं विनियामन) अधिनियम 1957 की संबंधित धाराओं के तहत प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया था। जिस पर से यह प्रकरण न्यायालय में प्रारंभ हुआ था।

प्रतिवेदित प्रकरण में खनिज निरीक्षक द्वारा अपना प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया था। जिस पर व्ही.एस. मिनरल्स हाउसिंग बोर्ड कटनी द्वारा जिले की विभिन्न रेल्वे साईट्स से रेल्वे वैगनों के माध्यम से खनिज चूना पत्थर भेजने की बात थी। साथ ही सप्लायर को सप्लाई किये गये खनिज के वैद्य दस्तावेज एवं जमा रॉयल्टी की राशि के सत्यापन हेतु पत्र एवं स्मरण पत्र लिखे गये थे। इस पर अनावेदक ने आवेदन देकर बताया कि फर्म के नाम जिले में स्वीकृत खनि पट्टा खदान से तथा अन्य पट्टाधरियों से क्रय कर खनिज चूना पत्थर का सप्लाय किया गया है। लेकिन पट्टाधारी द्वारा प्रस्तुत जानकारी के साथ वैद्य जमा रॉयल्टी राशि के चालानों एवं ट्रॉन्जिट पास नहीं दिये गये थे।

इस मामले में पूरे प्रकरण में संलग्न अभिलेखों का परीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के निर्देश उपसंचालक खनिज को दिये गये थे। जिस पर उपसंचालक खनिज द्वारा सौंपे गये प्रतिवेदन में खान एवं खनिज (विकास एवं विनियमन) अधिनियम 1957 एवं संशोधन अधिनियम 2015 की धारा 21(5) के तहत अनावेदक मेसर्स व्ही.एस. मिनरल्स द्वारा उस अवधि में सप्लाई किये गये खनिज चूना पत्थर की मात्रा 4078.92 मीट्रिक टन बताई गई। जिसका तात्कालिक बाजार मूल्य ग्यारह लाख एक हजार तीन सौ तीन रुपये आंककर कार्यवाही किया जाना प्रतिवेदित किया गया। साथ ही यह भी तथ्य स्पष्ट किया गया कि अनावेदक द्वारा 4078.90 मीट्रिक टन खनिज चूना पत्थर की रॉयल्टी एक लाख तिरेसठ हजार एक सौ छप्पन रुपये जमा नहीं की गई।

पूरे प्रकरण की विवेचना तथा उपसंचालक खनिज के प्रतिवेदन पर खनिज चूना पत्थर की रॉयल्टी राशि जमा ना करने पर दोषी सिद्ध पाते हुये कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने अनावेदक के कृत्य को मध्यप्रदेश खान एवं खनिज (विकास एवं विनियमन ) अधिनियम 1957 की धारा 4(1ए) का उल्लंघन माना है। जिस पर मध्यप्रदेश खान एवं खनिज (विकास एवं विनियमन ) अधिनियम 1957 एवं संशोधन अधिनियम 2015 की धारा 21(5) के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुये अनावेदक व्ही.एस. मिनरल्स से 4078.90 मीट्रिक टन खनिज चूना पत्थर का बाजार मूल्य ग्यारह लाख एक हजार तीन सौ तीन रुपये की वसूली किये जाने के आदेश जारी किये है।