कलेक्टर ने की समाजसेवी संगठनों, पशु प्रेमियों और दानदाताओं से आवारा पशुओं के लिए पशु आहार व चारा मुहैया करने में सहयोग की अपील

शेयर करें:

जबलपुर।कलेक्टर भरत यादव ने जिले में लॉकडाउन की स्थिति की वजह से आवारा पशुओं विशेषकर गौवंश और कुत्तों आदि को भोजन नहीं मिल पाने पर चिंता व्यक्त करते हुए जिले के समाजसेवी संगठनों, व्यापारिक प्रतिष्ठानों, पशु प्रेमियों और दानदाताओं से आग्रह किया है कि वे पशु आहार के रूप में चारा, खाद्य सामग्री, बचा भोजन या दान राशि प्रदान करें ।

कलेक्टर श्री यादव ने अपनी अपील में कहा है कि कोरोना वायरस की वैश्विक महामारी की वजह से आवारा पशुओं के लिए पशु आहार का गंभीर संकट पैदा हो गया है । हालाकि कुछ संस्थायें इस दिशा में अच्छा काम कर रही हैं । उन्होंने कहा खाना बनाने और वितरण में लगी संस्थायें वितरण से बचा भोजन और घरों में बचा खाना आवारा कुत्तों के लिए दे सकते हैं ।

कलेक्टर ने आशंका व्यक्त की है कि यदि भूख से कुत्तों और आवारा जानवरों की मृत्यु का सिलसिला शुरू होता है तो यह एक अलग प्रकार की चुनौती हो जायेगी । इसलिए इस कार्य में आगे बढ़कर दान करें । इस पुनीत कार्य में सहभागिता निभायें । दान देने की इच्छुक संस्थायें या व्यक्ति उप संचालक पशु चिकित्सा सेवा के कार्यालय के पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. अरूण पाण्डेय के मोबाइल नंबर 9893994400 या दूरभाष नंबर 0761-268076 पर संपर्क कर सकते हैं ।

संकलित पशु आहार को प्रात: 8 बजे से प्रात: 11 बजे तक शहर के चार स्थानों से वितरित कराया जायेगा । इसमें चल पशु चिकित्सालय गढ़ा (89591605477), कृत्रिम गर्भाधान केन्द्र व संभागीय रोग अनुसंधान प्रयोगशाला छोटी ओमती (9229572051), पशु उप स्वास्थ्य केन्द्र करौंदी रांझी (9039212172) और पशु स्वास्थ्य केन्द्र महाराजपुर (9755688313) को पशु आहार वितरण स्थल बनाया गया है । पशु आहार खाद्य सामग्री नगर निगम कार्यालय के हरीश शुक्ला (9685043792) एवं कुशाग्र ठाकुर (9893486939) पर भी दी जा सकती है । साथ ही किसी अन्य स्थान से पशु आहार लाने की स्थिति में दानदाता मोबाइल नंबर 9770133292 पर भी संपर्क कर सकते हैं ।